अवैध शस्त्र फैक्ट्री का भंडाफोड़, असलहों समेत एक गिरफ्तार - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Saturday, October 24, 2020

अवैध शस्त्र फैक्ट्री का भंडाफोड़, असलहों समेत एक गिरफ्तार

मलवां व स्वाट टीम ने उमरगहना गांव के जंगल में की छापेमारी 

फतेहपुर, शमशाद खान । मलवां थाना क्षेत्र के उमरगहना गांव में काफी समय से संचालित हो रही अवैध शस्त्र फैक्ट्री का शनिवार को मलवां व स्वाट की संयुक्त टीम ने छापेमारी करके भंडाफोड़ कर दिया। बने व अधबने अवैध असलहों समेत मौके से एक अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया। पकड़ा गया अभियुक्त शातिर किस्म का अपराधी है। जिसके विरूद्ध पहले से ही कई मुकदमें पंजीकृत हैं। 

पत्रकारों से बातचीत करते एएसपी राजेश सिंह।

शनिवार को मलवां थाना परिसर में पत्रकारों से बातचीत करते हुए अपर पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह न बताया कि पुलिस अधीक्षक प्रशांत वर्मा के दिशा-निर्देशन में मलवां थाना प्रभारी शेर सिंह राजपूत अपने हमराही सिपाहियों के साथ कुंवरपुर चैकी क्षेत्र में गश्त कर रहे थे। तभी स्वाट टीम प्रभारी उपनिरीक्षक विनोद कुमार मिश्रा अपनी टीम के साथ चैकी पर आये और प्रभारी निरीक्षक से अपराधियों के सम्बन्ध में चर्चा करने लगे। तभी मुखबिर ने सूचना दिया कि मलवां थाना क्षेत्र के उमरगहना गांव के जंगल में कुछ लोग छिपकर अवैध शस्त्र का निर्माण कर रहे हैं। सूचना मिलते ही पुलिस व स्वाट टीम उमरगहना गांव के जंगल पहुंचे और तालाब के किनारे बांस की कोठी के बीच अवैध शस्त्र का निर्माण करने वाली फैक्ट्री सहित अभियुक्त संतोष विश्वकर्मा पुत्र जागेश्वर विश्वकर्मा निवासी ग्राम उमरगहना थाना मलवां को गिरफ्तार कर लिया। जिसके कब्जे से अवैध शस्त्र बनाने के उपकरण के साथ 315 बोर के चार तमंचा, 12 बार के तीन तमंचा, 1 अर्द्ध निर्मित 315 बोर का तमंचा, दो कारतूस 315 बोर व एक कारतूस 12 बोर बरामद किया। पूछताछ के दौरान अभियुक्त ने बताया कि वह शस्त्र बनाकर बाहरी जनपदों में बेंचने का काम करता है। पुलिस ने पकड़े गयेे अभियुक्त के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया है। एएसपी ने बताया कि पकड़ा गया अभियुक्त शातिर किस्म का अपराधी है। जिसके खिलाफ मलवां थाने में आधा दर्जन से अधिक मुकदमें विचाराधीन है। एएसपी ने पुलिस व स्वाट टीम की सफलता पर बधाई दी। खुलासा करने वाली टीम में मलवां थाना प्रभारी के अलावा उपनिरीक्षक रामनरेश, कांस्टेबल अवनीश यादव, अंकित त्रिपाठी, अनिल कुमार सिंह के साथ ही स्वाट टीम प्रभारी विनोद कुमार मिश्रा, उपनिरीक्षक विपिन कुमार, हेड कांस्टेबल राजेश सिंह, कांस्टेबल मो0 जावेद, पंकज कुमार, अतुल त्रिपाठी, अजय कुमार, इन्द्रजीत, विपिन मिश्रा, रविशंकर द्विवेदी, अमित दुबे शामिल रहे।  


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages