उचित दर दुकान आवंटन में फर्जी प्रस्ताव भेजने की मंशा बना रहा प्रधान - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Advt.

Wednesday, October 14, 2020

उचित दर दुकान आवंटन में फर्जी प्रस्ताव भेजने की मंशा बना रहा प्रधान

ग्रामीणों ने कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन कर खुली बैठक में प्रस्ताव पारित कराने की उठायी मांग 

फतेहपुर, शमशाद खान । हथगाम विकास खण्ड की ग्राम पंचायत सियाड़ी में उचित दर दुकान आवंटन के लिए ग्राम पंचायत की खुली बैठक में कोई निष्कर्ष न निकलने के बावजूद अवैध उगाही कर ग्राम प्रधान फर्जी प्रस्ताव भेजने की मंशा बना रहा है। जिसको लेकर बुधवार को ग्रामीणों ने कलेक्ट्रेट आकर प्रदर्शन किया तत्पश्चात जिलाधिकारी को एक शिकायती पत्र सौंपकर खुली बैठक में प्रस्ताव पारित कराये जाने की मांग उठायी है। 

कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन करते सियाड़ी गांव के ग्रामीण।

सियाड़ी गांव के ग्रामीण कलेक्ट्रेट आये और जिलाधिकारी को एक शिकायती पत्र सौंपकर बताया कि ग्राम पंचायत में उचित दर दुकान आवंटन के लिए 13 अक्टूबर को ग्राम पंचायत की खुली बैठक निर्धारित की गयी थी। 12 अक्टूबर की शाम को जानबूझकर सूचना दी गयी थी। सम्बन्धित दुकान केे लिए कुल छह आवेदकों ने आवेदन किया था। जिसमें दुकान का आवंटन स्वयं सहायता समूह के माध्यम से होना था। बैठक में कोई भी बात तय नहीं हो पायी और न ही कोई निर्धारित समय अवधि पर बैठक की गयी। महज ग्राम प्रधान के इशारे पर सत्ताधारी नेताओं के दबाववश बिना कुछ बताये सभी अधिकारी वहां से चले गये थे। ग्राम प्रधान ने कहा था कि जो व्यक्ति एक लाख पचास हजार रूपये देगा उसी को कोटे की दुकान दी जायेगी। चोरी-चोरी ग्राम प्रधान के इशारे पर सम्बन्धित कार्रवाई का प्रस्ताव भेजने की तैयारी चल रही है। बिना बैठक व प्रस्ताव के फर्जी कार्रवाई भेजने की मंशा है। ग्रामीणों ने कहा कि सम्बन्धित नामित अधिकारी द्वारा बैठक के पूर्व तमाम महिलाओं को बिना कुछ बताये हस्ताक्षर व निशान अंगूठे बनवा लिये गये। उसके दुरूपयोग की मंशा है। ग्रामीणां ने जांच कराकर सम्बन्धित ग्राम पंचायत की उचित दर दुकान आवंटन के सम्बन्ध में नये सिरे से बैठक व कार्यवाही हेतु एसडीएम अथवा तहसीलदार को नामित कर खुली बैठक में प्रस्ताव पारित कराये जाने व उसकी वीडियोग्राफी कराये जाने की मांग उठायी। इस मौकेे पर पुष्पा सिंह, विनीता सिंह, माया देवी, आशा देवी, संतोषी, माया, रतन, सुशीा देवी, जावित्री देवी, फूलकली, प्रगति, सुनीता देवी आदि मौजूद रहीं। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages