प्रेमी-प्रेमिका को बेपर्दा देख लेने पर गला घोंटकर हुई प्रिंस की हत्या - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Thursday, October 22, 2020

प्रेमी-प्रेमिका को बेपर्दा देख लेने पर गला घोंटकर हुई प्रिंस की हत्या

मासूम प्रिंस ने प्रेमी-प्रेमिका से कही थी सबको बता देने की बात 

तीन आरोपियों को बिसंडा थाना पुलिस ने कर लिया गिरफ्तार, जेल भेजा 

मासूम प्रिंस की अपहरण के बाद हुई निर्मम हत्या का पुलिस ने किया खुलासा 

बांदा, के एस दुबे । बिसंडा थाने के चैसड़ गांव में हुई आठ वर्षीय मासूम प्रिंस की हत्या का पुलिस ने गुरुवार को खुलासा कर दिया। हत्या का मुख्य कारण यह है कि मासूम प्रिंस ने हत्यारोपी और उसकी प्रेमिका को आपत्तिजनक हालत में बेपर्दा देख लिया था और मासूम ने कहा था कि वह यह बात सबको बता देगा। इसी के चलते प्रिंस गला दबाकर हत्या कर दी गई। हत्यारोपियों ने यह बात स्वीकार की है। 

मीडिया से मुखातिब एसपी सिद्धार्थ शंकर मीणा

मालुम हो कि चैसड़ गांव निवासी भागीरथी महाविद्यालय के प्रवक्ता राजेश कुशवाहा के आठ वर्षीय पुत्र 19 अक्टूबर को सुबह 10 बजे करीब लापता हो गया था। बिसंडा थाना और ओरन चैकी पुलिस को सूचना दी गई थी, लेकिन नाकाबंदी करने के बावजूद पुलिस उसे बरामद नहीं कर पाई थी। अगले दिन मासूम प्रिंस का शव पुआल के ढेर तले दबा मिला था। इस निर्मम हत्याकांड का जल्द खुलासा करने का आश्वासन आईजी के. सत्यनारयाण और पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ शंकर मीणा ने दिया था। बिसंडा थाना पुलिस ने तेजी दिखाई और हत्या के तीसरे दिन गुरुवार को खुलासा कर दिया। पुलिस लाइन सभागार में मीडिया से रूबरू होते हुए पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ शंकर मीणा ने बताया कि प्रिंस का अपहरण किए जाने और हत्या के मामले में तीन आरोपियों अंकित कुशवाहा पुत्र आनंद कुमार कुशवाहा और उसकी प्रेमिका सतरूपा पत्नी जितेंद्र कुशवाहा निवासीगण ग्राम चैसड़ तथा छोटा गुप्ता पुत्र स्व. कालीचरन गुप्ता निवासी बिसंडा गिरफ्तार किए गए हैं। एसपी ने बताया कि कथित प्रेमी और प्रेमिका
प्रिंस हत्याकांड में पकड़े गए दो आरोपी, मीडिया से मुखातिब एसपी सिद्धार्थ शंकर मीणा

को आपत्तिजनक हालत में मृतक प्रिंस ने देख लिया था। प्रिंस ने कहा कि वह सबको बता देगा। इस पर सतरूपा और अंकित प्रिंस को पकड़ लिया और मुंह दबाकर टेप लगा दिया। इसके बाद गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। प्रिंस के मृत होने के बाद रस्सी से उसके हाथ-पैर बांध दिया और सतरूपा व अंकित ने प्रिंस के शव को छिपा दिया। इसके बाद अंकित ने बिसंडा के रहने वाले छोटा गुप्ता से घटना बताई और कुछ करने की बात कही ताकि किसी को कोई शक न हो। इस पर छोटा गुप्ता के द्वारा मृतक प्रिंस के पिता राजेश कुशवाहा को फोन करवाकर धमकी दी। एसपी श्री मीणा ने बताया कि सभी आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल किया है। पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त रस्सी, टेप, मोबाइल भी हत्यारोपियों की निशानदेही पर बरामद किया है। तीनो हत्यारोपियों के खिलाफ धारा 33/364/302/201/34 के तहत रपट दर्ज कर जेल भेजा गया है। गौरतलब हो कि अंकित और दूसरे आरोपी छोटा के खिलाफ पहले से धारा 376 समेत विभिन्न धाराओं में रपट दर्ज है। गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीइम में बिसंडा थाना प्रभारी नरेंद्र प्रताप सिंह, वरिष्ठ उप निरीक्षक अनिल कुमार सिंह, उप निरीक्षक सत्येंद्र सिंह भदौरिया, कांस्टेबल प्रतीक ंिसह, रोहित यादव, अंकित यादव और महिला कांस्टेबल प्रियंका यादव शामिल हैं। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages