ऑल मीडिया जर्नलिस्ट एसोसिएशन के महासचिव का जन्मदिन................ - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Wednesday, October 28, 2020

ऑल मीडिया जर्नलिस्ट एसोसिएशन के महासचिव का जन्मदिन................

(आमचा भारत)


.... जिंदगी की कशमकश में कितनी जल्दी समय चला जाता है, रास्ते वही है व्यक्ति और समय बदल जाता है..ऑल मीडिया जर्नलिस्ट एसोसिएशन के उत्तर प्रदेश के महासचिव देवेश प्रताप सिंह राठौर का 28 अक्टूबर को ऑल मीडिया जर्नलिस्ट एसोसिएशन की तरफ से जन्मदिन मनाया गया, श्री सिंह के संबंध में सिर्फ इतना हम जानते हैं श्री सिंह ने जनपद उन्नाव के रहने वाले हैं गांव इनका जिला कन्नौज तहसील छिबरामऊ के रहने वाले हैं। उन्नाव में भी उनका घर है वह और कर्म भूमि रही है।अपनी पत्रकारिता समय में इन्होंने इतने गरीब कमजोर लोगों को जिला अस्पताल में ले जाकर इलाज करवाया जिसे कोई छूना पसंद नहीं करता था। वह श्री सिंह अपनी मोटरसाइकिल बैठला के जिला अस्पताल को इलाज कराने ले गए मैं आपको एक बार की बात बताता हूं, एक साइकिल का पंचर बनाने वाला व्यक्ति उसका नाम शराफत है वह टीवी के रोग से ग्रस्त हो गया था मैं अपने बच्चे की साइकिल बनवाने गया, उसको हालत हालत देख कर उनको तरस आया और उन्होंने जो लोगों से बचकर भागते थे उसे देवेश प्रताप


सिंह राठौर ने मोटरसाइकिल में बैठाकर जिला अस्पताल के टीवी विभाग में दिखाया करीब 1 वर्ष इलाज चला और वह स्वस्थ हो गया आज वह स्वस्थ है। और जब भी मैं उन्नाव जाते हैं उधर से निकलता हूं अगर मैं शराफत के दुकान के सामने रुक जाता वह हाथ जोड़कर भावुक हो कर रोने लगता है, भैया आप ने मेरी जिंदगी बचाई है। मैं किस लायक हू , सब ईश्वर की कृपा से आप ठीक  हुए मैंने तो अपना फर्ज किया जो इंसान एक इंसान के नाते कर सकता है। टीवी विभाग के डॉक्टर साहब  ए के श्रीवास्तव जी उस वक्त का बहुत ध्यान रख कर और बड़ा अच्छा इलाज उन्होंने किया और वह स्वस्थ होकर आज दुकान चला रहा है।। एक नाई की दुकान है सविता है वह इतना परेशान था उसके खाने के लाले थे उन्होंने गरीबी रेखा से उसका कार्ड बनवाया एक ही गरीबी रेखा के कार्ड नहीं बनवाए हैं करीब उन्होंने सैकड़ों कार्ड गरीबी रेखा के बनवाए हैं जिसमें बहुत से लोगों को काशीराम कॉलोनी मिल गई है। वह आज जब मैं उन्नाव जाता हूं। मुझे इतना स्नेह प्यार मिलता है कि मैं अपने को रोक नहीं पाता आंसू निकल आते हैं।ऐसे कई एक उदाहरण है यह उदाहरण इसलिए दिया गया है क्योंकि लोग जात पात की बात करते हैं जात-पात के आधार पर किसी की मदद नहीं की जाती है ।तो किसी जात का हो तकलीफ किसी को अगर वह मदद करने में सक्षम है तो मदद करनी चाहिए। मैं आज बहुत खुश हूं क्योंकि मैंने अपने पिता जी के दिए वचनों को जो संस्कार मुझे दिए मैं उसका आज पालन कर रहा हूं और जब तक है जीवन रहेगा पालन करता रहूंगा,। सच्चा हो अच्छा इंसान वही है जो किसी कमजोर व्यक्ति की मदद कर उसे उठाने का काम करें मेरे पास ही स्वर्ग हमेशा मेरी मदद करता है श्री सिंह बहुत भावुक हो और कभी कभी रोने लगते हैं और वह कहते हैं। कितनी गरीबी कितनी कमजोर लोग हैं सरकार उन लोगों की तरफ ध्यान नहीं देती है मैं एक छोटा सा मानव हूं मेरे बस का जितना है मैं उतना करता हूं अगर यही जनप्रतिनिधि नेताओं मंत्री इन छोटे लोगों को ध्यान दें कोई भारत बहुत ही ताकतवर और कोई भी भूखा नहीं है सोएगा सबको सम्मान प्राप्त होगा परंतु ऐसा इस भारत में नहीं हो पाता है। श्री सिंह के जन्मदिन पर आमजा भारत की तरफ से ढेर सारी शुभकामनाएं ईश्वर में स्वस्थ रखे दीर्घायु प्रदान करें आमजा भारत की पूरी टीम श्री सिंह को दीर्घायु की कामना करती है और प्रणाम करती है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages