कलेक्ट्रेट में लाभार्थियों को वितरित किए गए ऋण स्वीकृति पत्र - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, October 27, 2020

कलेक्ट्रेट में लाभार्थियों को वितरित किए गए ऋण स्वीकृति पत्र

कलेक्ट्रेट सभागार में सांसद की अध्यक्षता में किया गया वर्चुअल संवाद 

बांदा, के एस दुबे । प्रधानमंत्री वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि के तहत पीएम सुनिधि लाभार्थियों के साथ मंगलवार को वर्चुअल संवाद कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सांसद आरके सिंह पटेल की अध्यक्षता में किया गया। इस दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष रामकेश निषाद और सदर विधायक प्रकाश द्विवेदी ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। जिलाधिकारी आंनद कुमार सिंह ने बताया कि प्रदेश स्तर पर बांदा 19वीं रैंक पर है। 7412 लक्ष्य के सापेक्ष 4035 आनलाइन आवेदन प्राप्त हुए हैं, जिसमें से 2279 का लोन स्वीकृत कर दिया गया है। 1483 लाभार्थियों ने इस योजना का लाभ प्राप्त कर लिया है और 50 लोगों को जनप्रतिनिधियों के द्वारा प्रमाण पत्र का वितरण किया गया है। इनमें साबिया खान, रजिया बेगम, शिमला, विजय, मोहम्मद शानू, विद्या देवी, कलावती, रामनरेश, सरफराज अहमद, अनीश खान, शिव शंकर यादव, राजकुमारी, शिवप्रसाद, सहोदरा, सद्दाम हुसैन, धीरज यादव, अलीमुद्दीन, छोटे लाल गुप्ता, रामगोपाल, फूलमती शामिल हैं। 

लाभार्थी को ऋण स्वीकृति पत्र सौंपते सांसद आरके सिंह पटेल, विधायक प्रकाश द्विवेदी व जिलाधिकारी आनंद कुमार सिंह

सांसद आरके सिंह पटेल ने लाभार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि सुनिधि योजना प्रधानमंत्री की महत्वाकांक्षी योजना है। जो लोग कोविड-19 की वैश्विक महामारी के कारण जो लोग प्रभावित हुए हैं। उनको पुनः पटरी पर लाने के लिए यह निधि का संचालन किया गया है। उनका लक्ष्य हर छोटे तबके के लोगों के को मुख्यधारा से जोड़कर आत्मनिर्भर बनाने की है। यदि पात्र व्यक्ति है तो इस योजना का लाभ उसे मिलेगा यही योजना नहीं बल्कि जितनी भी भारत सरकार एवं उत्तर प्रदेश सरकार की योजना संचालित है सभी योजनाओं का लाभ गरीब तबके के व्यक्ति को दिया जा रहा है जिससे इस योजना का लाभ प्राप्त कर अपनी इनकम बढ़ा सकें और अपना परिवार चला सके और स्वावलंबी बन सके। श्री पटेल ने लोगों से अपील किया कि गुटखा पान का सेवन न करें।

जिला भाजपा अध्यक्ष रामकेश निषाद ने अपने संबोधन में कहा कि जो रोज कमाने खाने वाले व्यक्ति हैं और कोरोना काल में ऐसी परिस्थितियां उत्पन्न हुई कि उनके सारे कामकाज बंद हो गए। ऐसे परिवारों को कैसे पटरी पर लाया जाए, इस कड़ी में प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री ने ऐसे लोगों को कम ब्याज पर ऋण उपलब्ध कराया है। विधायक सदर प्रकाश द्विवेदी ने कहा कि कोविड-19 जैसी वैश्विक महामारी के कारण सबसे ज्यादा गरीब तबके के लोग प्रभावित हुए हैं और परेशान हुए हैं। उनको 10 हजार रुपए ऋण की आर्थिक सहायता का लाभ प्रदान किया गया है।

जिलाधिकारी आनंद कुमार सिंह ने जिसकी सबको प्रतीक्षा थी, वह दिन आ ही गया। कहा कि इस जनपद में इस कार्य की प्रगति पहले बहुत अच्छी नहीं थी लेकिन हमारी पूरी प्रशासनिक टीम ने मेहनत के साथ दो-तीन दिनों के अंदर प्रगति को अग्रसर किया है और लाख 1 हजार 483 लाभार्थियों को लाभ मिला है। और जनपद बांदा 19वें स्थान पर यह मुकाम हासिल किया हैं। उन्होंने कहा कि शहरी पथ विक्रेता रुपए 10000 तक के कार्यकारी पूंजी ऋण  प्राप्त करने के पात्र होंगे और समय पर ऋण वापसी करने पर विक्रेता अगले बार कार्यकारी पूंजी ऋण के पात्र होंगे। निर्धारित तिथि से पूर्व ऋण वापसी करने पर विक्रेताओं पर कोई पूर्व भुगतान जुर्माना नहीं लगाया जाएगा। योजना के अंतर्गत ऋण प्राप्त करने वाले विक्रेता 7 प्रतिशत की दर पर ब्याज सब्सिडी के पात्र होंगे। यह ब्याज सब्सिडी 31 मार्च 2022 तक उपलब्ध रहेगी। कार्यक्रम में उपस्थित एसडीएम सदर ज्वाइंट मजिस्ट्रेट सुधीर कुमार, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व संतोष बहादुर सिंह, नगर मजिस्ट्रेट सुरेंद्र श्रीवास्तव, लीड बैंक मैनेजर गौरव आनंद, सहित जनप्रतिनिधि के पदाधिकारीगण एवं कार्यक्रम संचालन संजीव सिंह बघेल सहित लाभार्थी उपस्थित रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages