महिलाओं पर हिंसा समाज के लिए अभिशाप - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Advt.

Saturday, September 26, 2020

महिलाओं पर हिंसा समाज के लिए अभिशाप

हमीरपुर, महेश अवस्थी  । जेंडर हब की बैठक में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए  जिला प्रोबेशन अधिकारी नीरज कुमार ने कहा कि महिलाओं पर हिंसा, उत्पीड़न व उनके साथ होने बाले भेदभाव पूर्ण व्यवहार को बदलाव लाने के लिए साझा प्रयास करने होंगे। समर्थ फाउंडेशन व सहयोग के द्वारा आयोजित मित्र एक साथ  अभियान के तहत जेंडर हब के बैठक में बोलते हुए उन्होंने कहा कि महिलाओं व लड़कियों को न्याय दिलाना उनकी प्राथमिकता है। जरूरतमंद लोग वन स्टाप सेंटर में आए। 

वन स्टाप सेंटर की इंचार्ज मोनिका गुप्ता ने सेंटर के तहत संचालित कार्यक्रमों व सुविधाओ के जानकारी विस्तार से देते हुए कहा कि महिलाओं व किशोरियों के उत्पीड़न रोकने और उन्हें समय पर सभी न्याय आधारित सुविधायें वन स्टाप सेंटर से प्रदान की जा रही है। उन्होंने कहा कि लीगल ऐड सहायता, मेडिकल सहायता, पुलिस सहायता  की सुबिधाये भी यही से उत्पीड़न की शिकार महिलाओं को प्रदान की जाती हैं। उन्होंने कहा कि  समर्थ फाउंडेशन के साथ मिलकर जरूरत मंद लोगो तक पहुँचने की और अधिक पहल की जाएगी।


जिला समन्वयक  गाँधी ने कहा कि यह साझा प्रयास हैं कि सरकारी और गैर सरकारी लोग मिलकर महिलाओं व लड़कियों की हिंसा मुक्त दुनिया को बनाने के और अधिक पहल करें। वरिष्ठ पत्रकार महेश अवस्थी में समाज को जोड़ने पर जोर देते हुए कहा कि महिलाओं और पुरुषों को समझाने से भी कई समस्याओं के समाधान हो सकते है। सामाजिक जागरूकता के लिए और प्रयास हो। वरिष्ठ पत्रकार एस पी शुक्ला ने कहा कि लड़कियों व महिलाओं हिंसा के घटनाओं की शुरुआत पर ही विरोध करे। डरे नही,  हिंसा सहे नही। वरिष्ठ पत्रकार पीडी दीक्षित ने कहा कि  लॉकडाउन के दौरान पुरुषों ने घर के कार्यो में सहयोग किया है। ऐसी आदतों अपने व्यबहार में लाने की  जरूरत है।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages