‘दायित्वों का निवर्हन करें अधिकारी’ - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Wednesday, September 2, 2020

‘दायित्वों का निवर्हन करें अधिकारी’

देश में रुका है विकास का पहिया, लेकिन जनपद में हुए धरातल पर कार्य

मंत्री, सांसद बोले-विकास में नहीं आए रुकावट

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। सांसद आरके सिंह पटेल की अध्यक्षता व राज्यमंत्री लोक निर्माण विभाग चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय की उपस्थिति में कलेक्ट्रेट सभागार में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति, दिशा, की बैठक संपन्न हुई।

सांसद आरके सिंह पटेल ने अधिकारियों से कहा कि इस महामारी में लंबे समय से विकास का पहिया पूरे भारत में रुका था। इसके बावजूद जनपद में अच्छे विकास कार्यों को धरातल पर कराया है। कहा कि प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री ने जो योजनाएं चलाई हैं वह गांव, गरीब, मजलूम के लिए हैं। सकुशल इन योजनाओं का लाभ लोगों को दें। कहीं पर रुकावट नहीं होना चाहिए। यह जनपद आकांक्षा जिला में घोषित है। जिसे विकसित किया जाएगा। सभी अधिकारी अपने दायित्वों का निर्वहन कर इस पिछड़ा क्षेत्र के जनपद के अंगूठा टेक लोगों को लाभान्वित कराएं। प्रत्येक योजनाओं का पैसा अब सीधे लाभार्थियों के खाते में सरकार भेज रही है। जिसका दुरुपयोग न होने पाए। कहा कि कोरोना महामारी से जनपद पर मौत नहीं हुई है। यह भगवान कामतानाथ का आशीर्वाद है। सब लोग इस बीमारी से बचते हुए सावधानीपूर्वक कार्यों को कराएं।

बैठक में समीक्षा करते सांसद, मंत्री।

राज्यमंत्री चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय ने कहा कि बैठक में जनपद के विकास के लिए कई योजनाओं पर विस्तृत चर्चा किया गया। निर्णय भी लिया गया उसीके अनुसार विभाग विकास कार्यों को कराएं। उन्होंने कहा कि भारत सरकार व प्रदेश सरकार की विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ जनपद की जनता को मिले। सभी विभागों से संबंधित योजनाओं का लाभ अधिक से अधिक मुहैया कराएं। किसी भी योजना पर लापरवाही नहीं होना चाहिए। सभी अधिकारी दायित्वों का निर्वहन करते हुए विकास कार्यों को गति दें। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय ने कहा कि जनपद में भारत सरकार व प्रदेश सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं को धरातल पर उतारने का कार्य जिला स्तरीय अधिकारियों द्वारा किया जा रहा है। समय पर दिए गए निर्देशों का भी अनुपालन कराते हुए विकास कार्य कराए जा रहे हैं। उन्होंने सभी जनप्रतिनिधियों से कहा है कि लोगों को गांव-गांव जाकर शासन की योजनाओं के प्रति जागरूक करें। ताकि योजनाओं का लाभ लोग ले सके। अगर कोई गलत कर रहा हो तो उसकी सूचना दें। वह कठोर कार्यवाही करेंगें। बैठक में उप निदेशक मंडी, अधिशासी अभियंता नेशनल हाईवे तथा एसडीओ टेलीफोन के उपस्थित न होने पर जवाब तलब करने के भी निर्देश दिए।

बैठक के अंत में मुख्य विकास अधिकारी अमित आसेरी ने जन प्रतिनिधियों सहित समिति के सदस्यों व अधिकारियों का आभार व्यक्त करते हुए कहां की जो दिशा निर्देश दिए गए हैं उनका समस्त जिला स्तरीय अधिकारी विकास कार्यों में अक्षरशः पालन कराएं। बैठक का संचालन परियोजना निदेशक अनय कुमार मिश्रा ने किया। इस अवसर पर समिति के सदस्य अशोक जाटव, सांसद प्रतिनिधि शक्ति प्रताप सिंह तोमर, सदस्य विधान परिषद के प्रतिनिधि शशि शुक्ला, राजेश जयसवाल, ब्लाक प्रमुख रामनगर बालमुकुंद पाण्डेय, मानिकपुर ज्योत्सना देवी आदि अधिकारी व सदस्य मौजूद रहे।

इन योजनाओं की बिन्दुवार की समीक्षा

चित्रकूट। बैठक में महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना, दीनदयाल अंत्योदय योजना, दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम, प्रधानमंत्री आवास शहरी व ग्रामीण, स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण व शहर, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल योजना, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, डिजिटल भारत भू अभिलेख आधुनिकीकरण कार्यक्रम, दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना, श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूबेन मिशन, राष्ट्रीय विरासत शहर विकास और वृद्धि योजना, अटल मिशन फार रेजुवेनसन एंड अर्बन ट्रांसफॉरमेशन, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, सर्व शिक्षा अभियान, समेकित बाल विकास योजना, मिड डे मील, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना, डिजिटल इंडिया इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोग्राम, प्रधान मंत्री खनिज क्षेत्र कल्याण योजना, समेकित विद्युत विकास योजना, केंद्रीय पूल योजना, राष्ट्रीय कृषि विकास योजना, परंपरागत कृषि विकास, मृदा स्वास्थ्य कार्ड, राष्ट्रीय कृषि बाजार, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई लाभ कार्यक्रम, कमांड एरिया डेवलपमेंट एंड वाटर मैनेजमेंट प्रोग्राम, प्रधान मंत्री आदर्श ग्राम योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कार्यक्रम आदि विभिन्न योजनाओं की समीक्षा की गई। 

भारत सरकार के कार्यों की नहीं रहती जानकारी

चित्रकूट। जिलाधिकारी ने सांसद से कहा कि जनपद में जो संस्थाएं कार्य कर रही है उसमें कितनी धनराशि भारत सरकार से स्वीकृत होकर क्या-क्या कार्य कराए जाते हैं इसकी सूचना जिला प्रशासन को नहीं रहती है। इसके लिए भारत सरकार को पत्र लिखकर अवगत कराया जाए। 

सम्मान निधि का दें लाभ, उर्वरक की न हो कमी, 

चित्रकूट। सांसद व मंत्री ने उप निदेशक कृषि को निर्देश दिए किसान सम्मान निधि में जो किसान छूट गए थे उसकी सूची बनाकर लाभान्वित कराएं। जिन किसानों के खाते की समस्या है उसमें भी सुधार किया जाए। उर्वरक की व्यवस्था बनी रहे। किसानों को कोई कमी नहीं होना चाहिए। इस पर जिलाधिकारी ने कहा कि कई साधन सहकारी समितियों के सचिवों के खिलाफ कठोर कार्यवाही की गई है। उर्वरक की समस्या किसानों को नहीं होने दी जाएगी। 

स्वदेश दर्शन के कार्यों की कराएं जांच

पेयजल, विद्युत, रोजगार की न हो समस्याएं

चित्रकूट। सांसद ने पर्यटन अधिकारी से कहा कि स्वदेश दर्शन में चित्रकूट के जो विकास कार्य कराए गए हैं उसका विवरण सहित सूची दें। कमेटी गठित कर तकनीकी जांच भी कराई जाए। सांसद व मंत्री ने पेयजल योजनाओं पर संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए की पेयजल योजनाएं पूर्ण क्षमता में संचालित करें। विद्युत विभाग के अधिकारी तत्काल विद्युत व्यवस्था सुधारें। विद्युत नहीं पहुंची है इसके बावजूद वहां पर मीटर लगा दिया गया है और लोगों के बिल आ रहे हैं। इसमें समस्या हो रही है। संबंधित कार्यदाई संस्थाओं के खिलाफ कार्यवाही कराई जाए। कहा कि मनरेगा योजना में कन्वर्जंस के विभाग अधिक से अधिक कार्य कराएं। ताकि प्रवासी मजदूरों को रोजगार मिल सके। इस पर जिलाधिकारी ने बताया कि मनरेगा के कार्यों में जनपद प्रदेश में प्रथम स्थान पर रहा है। अविरल जल अभियान के अंतर्गत काफी कार्य कराए गए हैं।

जनप्रतिनिधियों से कराएं लोकार्पण, शिलान्यास

चित्रकूट। जिलाधिकारी ने जिला पंचायत राज अधिकारी तथा जिला कार्यक्रम अधिकारी बाल विकास को निर्देश दिए की वर्चुअल गूगल मीट के माध्यम से सामुदायिक शौचालयों के निर्माण व आंगनबाड़ी केंद्रों के निर्माण का लोकार्पण तथा शिलान्यास जनप्रतिनिधियों से समय लेकर कराया जाए। इसी प्रकार बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ पर भी अभियान चलाकर कार्यक्रम आयोजित कराएं। 

भरे जाएं गढ्ढे, नई सड़कों का मांगा प्रस्ताव

चित्रकूट। सांसद व मंत्री ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए की जिन सड़कों पर गड्ढा हो गए हैं उनको तत्काल भरा दिया जाए। नई सड़कों के प्रस्ताव बनाकर शासन को भेजें। ताकि अधिक से अधिक सड़कों का निर्माण कार्य कराया जा सके। नहरें बनाई जानी है उन पर भी कार्यवाही सुनिश्चित करें। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages