कानून सख्त होने के बाद भी कोरोना काल में जनता नियम का पालन नहीं कर रही................ - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Sunday, September 13, 2020

कानून सख्त होने के बाद भी कोरोना काल में जनता नियम का पालन नहीं कर रही................

देवेश प्रताप सिंह राठौर 

( स्वतंत्र पत्रकार)

............ आज भारतवर्ष में 45 लाख से ऊपर कोरोना वायरस संक्रमित लोगों की संख्या पहुंच चुकी है। सरकार ने चाहे केंद्र की हो चाहे राज्य की हो लॉकडाउन करके देख लिया करो ना संक्रमित लोगों की कमी नहीं आई है सरकार ने हर प्रयास किया कोरोना संक्रमित मरीजों की वृद्धि में रोक लगाई जा सके। परंतु करुणा संक्रमित मरीजों की संख्या दिनों दिन बढ़ती जा रही है आज यह हाल है 45 लाख के ऊपर भारतवर्ष में कोरोना संक्रमित लोग हो रहे हैं। सरकार ने लॉक डाउन करके देखा उसके बाद सुरक्षा की दृष्टि से सबको रहने के लिए उपाय बताएं परंतु इस देश की जनता वह समझ में नहीं आ रहा है अब लॉकडाउन पूर्ण रूप से हटा दिया गया है। आज आप जहां रह रहे हो कोई भी वक्त कहीं रह रहा हो इस देश में आप बाजार में जाइए 100 में 80 लोग मास्क लगाए नहीं मिलेंगे दुकानों में खड़े हुए लोग कोई सोशल डिस्टेंस का कार्य नहीं सब एक दूसरे के साथ बिना मासक के दुकानदारी कर रहे हैं मैं एक मेडिकल स्टोर में कुछ दवाई लेने गया मेडिकल स्टोर में रस्सी तो बनी थी 3 लाइनें लगी थी ऑनलाइन में सिर्फ मैं मास्क लगाए था और एक सज्जन थे सरदार जी वह मास लगाए थे सभी लोग बिना महासके के जरा जरा सी दूरी पर खड़े थे मैंने मेडिकल स्टोर वाले मालिक से कहा हमने कहा भाई इन लोगों से मांस लगाने को क्यों नहीं बोलते हैं उन्होंने कहा भाई थक गए हैं कहते कहते हैं लोग नहीं सुधर रहे हैं। मैंने बड़े आवेश में बोला क्योंकि आज देश के हालात यही लोग लापरवाह लोग खराब किए हैं मैंने कहा आप लोग अपना अपना मासक निकाल कर मुंह में लगा लो ऑल नहीं लगा रहे हो तो उसका इलाज मेरे पास है अभी मैं आप लोगों को पुलिस बुलाकर जुर्माना सीसीटीवी कैमरा एंड के पास लगे हुए हैं इसकी फुटेज निकलवा कर आप लोग अभी जुर्माना देना पड़ेगा इसलिए मैं कह रहा हूं कि अपना अपना मुंह में मांस लगाकर खड़े हो और सोशल डिस्टेंस बनाओ उन्होंने क्या सोचा और समझा जेव से मास्क निकालकर आया एक दो लोग बोले भाई हम लोग मांस को लेकर चलते हैं हमने कहा मां से लेकर चलने की जरूरत नहीं है मास्को मुंह में रखने की जरूरत है जेब में रखने से मुंह से निकली हुई आपका यह


गाना किसी की जिंदगी को तबाह कर सकता है अगर आपको रोना संक्रमित कहीं हो, सरकार भी चाय केंद्र की ओर से राज्य की हो समझा समझा कर थक गई है अब उसने छोड़ दिया है आपको अपने हाल में सुरक्षा रखोगे तो आपका परिवार आप बचे रहोगे नहीं रखोगे तो खुद ही परेशान होगे, सरकार सख्ती कर रही है चौराहों पर हर जगह जगह पुलिस लगी हुई है जो लोग मास्क नहीं लगाए हैं उनकी चेकिंग हो रही है उसके बाद भी अधिकांश लोग आप बजार के अंदर जब प्रवेश करेंगे वहां पर आपको दिखाई दे जाएगा जितनी इस देश की जनता लापरवाह है। मेरी सरकार से विनम्र निवेदन है उत्तर प्रदेश सरकार से बहुत शक्ति की जरूरत है क्योंकि देश की जनता बिना दंड दिए सुधरने वाली नहीं है। जिस से कहो मास्क लगा लो तो जवाब मिलता है अरे अपने देश में करोना  अरोना कुछ है नहीं है, सब बेकार की बातें हैं। यह उनके शब्द है जिनकी उम्र 65 साल के ऊपर है मैंने उन दादा से कहा दादा जी आपको हम लोगों को समझाना चाहिए नियम का पालन कराना चाहिए जब आप इस तरह की बात बोलेंगे तो आपके घर परिवार में और लोग कैसे नियम कोरोना संक्रमित काल में करेंगे। भारत सरकार उत्तर प्रदेश सरकार और देश के अन्य राज सभी जगह कोरोना संक्रमित के कारण बेहद परेशानी चल रही है। जब पूरे देश को पूरे विश्व को पता है कोरोना वायरस जाने वाला नहीं जब तक बैक्सीन नहीं बन जाती है तब तक हमें सुरक्षा रखते हुए कार्य करना है। बहुत इस देश में शिक्षा का अभाव है कोई भी व्यक्ति अच्छी बात समझना नहीं चाहता अगर कोई बात उसके हित के लिए कहो लड़ने लगता है। इसलिए सरकार ने भी सोच लिया और जनता ने भी सोच लिया करुणा संक्रमित से बचाव कर सकते हो करो और ना ही मरना है तो मरो हम आप लोगों को पूर्ण रूप से समझा चुके हैं करोना इलाज नहीं है जब तक इसकी वैक्सीन नहीं बनेगी हमें आपको नियम के पालन के साथ रहकर अपने दायित्वों को निर्वाहा करना होगा। परंतु सरकार कहते कहते थक गई परंतु यहां की जनता विशेषकर मैं उन लोगों से कहूंगा जो जमाती विचारधारा के लोग हैं वह इस चीज को कम मानते हैं। कोरोना संक्रमित लोगों के संख्या बढ़ाने में दिल्ली में खट्टे जमाती लोगों ने विदेश में जा जाकर करो ना बढ़ाया उनका हेड साद आज तक गिरफ्तार नहीं हुआ। कोई उसके संबंध में समाचार आता है क्योंकि उसके द्वारा किया गया कृत पर पानी डाल दिया गया वहीं पर अन्य लोग जो भी थोड़ा सा भी कुछ करते हैं उनके ऊपर कार्यवाही हो जाती है परंतु दिल्ली में जमाती खट्टे हुए पूरे देश में जा जाकर धर्म प्रचार किया और कोरोना को फैलाया वह आज कहां पर है क्या है क्यों नहीं उनकी गिरफ्तारी हुई सब ठंडे बस्ते में बंद कर दिया गया है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages