इलेक्ट्रो होमियोपैथ चिकित्सको का उत्पीड़न बर्दास्त नही -डॉ निगम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Saturday, September 5, 2020

इलेक्ट्रो होमियोपैथ चिकित्सको का उत्पीड़न बर्दास्त नही -डॉ निगम

सुमेरपुर में चिकित्सालय का शुभारंभ    

हमीरपुर, महेश अवस्थी  । इलेक्ट्रो होम्योपैथी के जनक डा. काउंट सीजर मैटी की पुण्य तिथि पर हमीरपुर शहर में इलेक्ट्रो  होम्योपैथिक स्टडी सेंटर में  इलेक्ट्रो होम्योपैथिक मेडिकल एसोसियेशन आफ इंडिया के राष्ट्रीय प्रवक्ता डा. नरेंद्र भूषण निगम ने इस पैथी से जुड़े चिकित्सकों एवं शिक्षकों का अपनी विधा से ही प्रैक्टिस करने का आह्वान किया। 

उन्होने आगे कहा कि इस विधा से असाध्य रोगों को ठीक किया जा सकता है। केँद्र सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने 21 जून 2012 को शासनादेश जारी कर इस पद्धति की चिकित्सा और शिक्षा में अपनी सहमति दिखायी ।जिसके परिप्रेक्ष्य में उत्तर प्रदेश के चिकित्सा महा निदेशक ने 2 सितंबर 2013 को आदेश जारी करते हुए सभी अपर महानिदेशक एवं सीएमओ को निर्देशित किया था कि 4 जनवरी 2012 को जारी  शासनादेश का


अनुपालन किया जाए। प्रदेश सरकार ने इलेक्ट्रो होम्योपैथी को विधि संगत मानते हुए इलाज करने का अधिकार दे रखा है। उन्होने कहा कि बोर्ड आफ इलेक्ट्रो होम्योपैथिक मेडिसिन लखनऊ  से अधिकृत एवं पंजीकृत चिकित्सकों का उत्पीड़न बर्दाश्त नहीं करेंगे। बुंदेलखंड इलेक्ट्रो होम्योपैथिक स्टडी सेंटर के प्रभारी डा. गणेश सिंह विद्यार्थी ने बताया कि भारत सरकार द्वारा घोषित नई शिक्षा नीति के अनुसार इलेक्ट्रो होम्योपैथी में भी स्नातक स्तरीय जीईएचएस 4+1 वर्षीय कोर्स शीघ्र ही संचालित होंगे ।जो बोर्ड द्वारा संचालित होंगे। डा. एस के चक्रवर्ती ने सभी चिकित्सको को कोविड-19 से बचाव करते हुए लोगों को चिकित्सा प्रदान की जाए ।  डा. मधुर मेहर निगम ने कहा कि पंजीयन कराने के बाद गाँवो में चिकित्सा व्यवस्था देना बहुत जरूरी है। डा. सुनीता सागर, डा. अरुण त्रिपाठी, डा. संतोष आर्या, नम्रता, डा. कीर्ति सिंह, प्रियँका, अंकुर निगम एडवोकेट विधि सलाहकार, अनूप ने भागीदारी की ।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages