शासनादेश को ठेंगा दिखाकर कानाखेड़ा विद्यालय परिसर में निर्माणाधीन सामुदायिक शौचालय - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Saturday, September 5, 2020

शासनादेश को ठेंगा दिखाकर कानाखेड़ा विद्यालय परिसर में निर्माणाधीन सामुदायिक शौचालय

बीएसए नहीं देते जबाव, फोन काटने में माहिर

खण्ड शिक्षा अधिकारी कदौरा ने निर्माण कार्य बंद कराकर उच्चाधिकारियों को अवगत कराने की बात कही

कालपी (जालौन), अजय मिश्रा । तहसील मुख्यालय के विकास खण्ड कदौरा के प्राथमिक विद्यालय कानाखेड़ा की बाऊन्ड्री बाल के अन्दर निर्माणाधीन सामुदायिक शौचालय विभागीय शासनादेशों को ठेंगा देखा रहा है वही अध्ययनरत छात्र-छात्राओं के पठन-पाठन मे रोड़ा साबित होगा। जबकि सरकार के आदेशानुसार अध्ययनरत छात्रों व विद्यालय शिक्षक स्टाफ को मद्देनजर रखते हुये पूर्व से ही शौचालय निर्माण हो चुका है जिसका प्रयोग भी किया जा रहा है।

विद्यालय परिसर में निर्मणाधीन सामुदायिक शौचालय।

जानकारी के अनुसार तहसील कालपी के ब्लाक कदौरा के कानाखेड़ा प्राथमिक विद्यायल के परिषद मे बाऊन्ड्री बाल के अन्दर पंचायत विभाग से सामुदायिक शौचालय का निर्माण कार्य कराया जा रहा है जो शासनादेश के विपरीत है। जिसकी शिकायत ग्रमीणांे द्वारा जिले के उच्चाधिकारियों से की गई है। तथा अपर मुख्य सचिव रेणुका कुमार को भी शिकायत की प्रति प्रेषित करने की बात ग्रमीणों ने कही है। अपर मुख्य सचिव रेणुका कुमार द्वारा भेजे अगस्त 2020 जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को लिखित पत्र मे स्पष्ट किया है कि परिषदीय विद्यालयों में सामुदायिक शौचालयों का निर्माण न कराने जाने के निर्देश दिये है जिसमे कहा है कि परिषदीय विद्यालयों में सामुदायिक शौचालय निर्माण भी कराया जा रहा है जो कि अत्यंत आपत्ति जनक है विद्यालय परिषद मे मात्र छात्रध्छात्राओं एवं स्टाफ के लिये ही शौचालय निर्माण किया जा सकता है संपूर्ण ग्राम के प्रयोग के लिये बन रहे ऐसे सार्वजनिक शौचालयों से विद्यालय के परिषदों में अध्ययनरत छात्रों एवं शिक्षकों को असुविधा होगी एवं विद्यालय बंद होने पर ग्रामीण ऐसे सार्वजनिक शौचालयों का उपयोग भी नही कर सकेगें। इसके अतिरिक्त संबंधित विद्यालय मंे अनुशासन उपस्थित छात्रध्छात्राओं की सुरक्षा, स्वास्थ्य एवं विद्यालय के शैक्षणिक वातावरण पर भी प्रतिकूल प्रभाव पडे़गा। आदि का हवाला देते हुये किसी भी सूरत पर सामुदायिक शौचालय निर्माण कार्य परषदीय विद्यालय परिषद पर न होने के आदेश दिये है लेकिन जनपद जालौन का बेसिक शिक्षा विभाग ऐसे शासनादेशों व निर्देशों को रद्दी की टोकरी मे डाल कर ठेंगा देखाते है। जब इस संबंध में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रेमचंद्र यादव से दूरभाष के माध्यम से वार्ता करनी चाही तो उन्होनें फोन उठाने के बजाय फोन काट दिया। खण्ड शिक्षा अधिकारी कदौरा आनंद भूषण से फोन द्वारा वार्ता हुई तो उनका कहना है कि जानकरी मिलते ही निर्माण कार्य बंद करा कर विभागीय उच्चाधिकारियों को अवगत करा दिया है।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages