गुलाबी गैंग ने भ्रष्टाचार के विरोध में बहुआ ब्लाक कार्यालय का किया घेराव - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Advt.

Monday, September 28, 2020

गुलाबी गैंग ने भ्रष्टाचार के विरोध में बहुआ ब्लाक कार्यालय का किया घेराव

फतेहपुर, शमशाद खान । बहुआ विकास खण्ड में फैले भ्रष्टाचार एवं गरीब पात्र लोगों को योजनाओं का लाभ न मिलने पर सोमवार को गुलाबी गैंग लोकतांत्रिक की अध्यक्ष हेमलता पटेल के नेतृत्व में सैकड़ों महिलाओं ने बहुआ ब्लाक कार्यालय का घेराव कर विरोध प्रदर्शन किया। मांग की गयी कि सभी पात्रों को योजनाओं का लाभ दिया जाये। यदि पात्रों को लाभ न मिला तो संगठन वृहद आन्दोलन के लिए विवश हो जायेगा। 

ब्लाक कार्यालय का घेराव करके नारेबाजी करतीं गुलाबी गैंग की महिलाएं।

सोमवार को गुलाबी गैंग लोकतांत्रिक की अध्यक्ष हेमलता पटेल के नेतृत्व में सैकड़ो महिलाएं गरीब पात्रों के साथ बहुआ ब्लाक पहुंची। भ्रष्टाचार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए पात्रों को लाभ दिलाये जाने की मांग की। खण्ड विकास अधिकार के माध्यम से जिलाधिकारी को सम्बोधित चार सूत्रीय ज्ञापन भी सौंपा गया। समस्याओं के शीघ्र निवारण किये जाने की मांग की गई। ज्ञापन में बताया गया कि ग्राम पंचायत सुजानपुर के गरीब पात्र व्यक्ति वृद्धा पेंशन हेतु पात्र थे। उनके आवेदन ग्राम विकास अधिकारी मनमोहन सिंह ने अपात्र घोषित करते हुए निरस्त कर दिए। आरोप लगाया गया कि ग्राम विकास अधिकारी मनमोहन सिंह ने एक-एक हजार रूपए की मांग की थी। जो पैसे देने में असमर्थ रहे तो उनको योजना से बाहर कर दिया। इसी तरह ग्राम सुजानपुर में पार्वती पत्नी स्व. मोतीलाल, जरीना पत्नी इरशाद, सोमवती पत्नी मनोज आदि ऐसे ही सैकड़ो पात्रों को शौचालय का लाभ नहीं दिया गया। ज्ञापन में बताया गया कि प्रीती के घर के पास हैण्डपम्प की नाली व ज्वाला मैय्या स्थान के पास नाली, खडंजा नहीं बनाया जा रहा है। सरकारी धन का दुरूपयोग किया गया है। कार्यरत ग्राम विकास अधिकारी मनमोहन सिंह के कार्यालय द्वारा कराये गए कार्यो की वित्तीय अनियमितता की जाँच करायी जाये। उधर कुष्ठ रोगी बाबू पुत्र महमद अली के छः सदस्यीय परिवार को शौचालय व आवास का लाभ अभी तक नहीं दिया गया है। अतिशीघ्र लाभ दिलाया जाये। अध्यक्ष हेमलता पटेल ने कहा कि संगठन भ्रष्टाचार के विरुद्ध पात्रों को लाभ दिलाने जाने हेतु आर-पार की लड़ाई के लिए तत्पर है। मांगे पूरी न होने पर वृहद आंदोलन कलेक्ट्रेट परिसर में करने हेतु संगठन बाध्य होगा। इस मौके पर सरला सिंह, राजरानी, प्रीती, रानी, सीमा, रानी, शहरुन, आमना, अर्चना, पूजा, कौशिल्या, विमला, सुधा आदि महिलायें मौजूद रहीं।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages