व्यापारी के घर चोरी का खुलासा न हुआ तो आंदोलन - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Wednesday, September 2, 2020

व्यापारी के घर चोरी का खुलासा न हुआ तो आंदोलन

उद्योग व्यापार मंडल ने विधायक को सौंपा ज्ञापन 

पुलिस पर रपट दर्ज न करने और लापरवाही का लगाया आरोप 

बबेरू, के एस दुबे । चोरी के मामलों में पुलिस वैसे भी लीपापोती करने का काम करती है। 27 अगस्त की रात को व्यापारी के घर में हुई पांच लाख की चोरी की पुलिस ने रपट दर्ज करना तक मुनासिब नहीं समझा। मामले को संदिग्ध बताकर पल्ला झाड़ने का प्रयास किया जा रहा है। उद्योग व्यापार मंडल ने बुधवार को विधायक को ज्ञापन सौंपा। चेतावनी दी है कि अगर चोरी का खुलासा न किया गया तो व्यापारी आंदोलन के लिए बाध्य होंगे। 

विधायक चंद्रपाल कुशवाहा को ज्ञापन सौंपते उद्योग व्यापार मंडल अध्यक्ष सुधीर अग्रहरि व अन्य

उद्योग व्यापार मंडल अध्यक्ष सुधीर अग्रहरि की अगुवाई में व्यापारियों ने बुधवार को विधायक चंद्रपाल कुशवाहा को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया कि कस्बे में चोरियों की बाढ़ सी आ गई है। पुलिस किसी भी चोरी की रिपोर्ट नहीं दर्ज कर रही है और न ही किसी का खुलासा किया जा रहा है। व्यापारियों ने बताया कि 27 अगस्त की रात को व्यापारी राजू शिवहरे पुत्र सहादेव के आवास में पांच लाख रुपए की चोरी हो गई थी। स्थानीय पुलिस ने न तो रपट दर्ज की और न ही चोरी का खुलासा किया जा रहा है। इसको लेकर व्यापारियों और नागरिकों में रोष व्याप्त है। जनभावनाओं को देखते हुए संगठन ने निर्णय लिया कि जल्द चोरी का खुलासान हुआ तो नगर का व्यापारी नागरिकों के सहयोग से कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुए जनांदोलन करेगा। इसकी पूरी जिम्मेदारी शासन और प्रशासन की होगी। व्यापारियों ने ज्ञापन में मांग की है कि व्यापारी के घर चोरी की रिपोर्ट दर्ज करते हुए खुलासा किया जाए, कस्बे में पुलिस गश्त बढ़ाई जाए, दोपहिया वाहनों का चालान मास्क लगाए लोगों का न किया जाए, साथ ही रोज चैराहे पर वाहन चेकिंग अभियान न चलाया जाए और चैराहे की दूरी पर चेकिंग लगाई जाए, कस्बों व ग्रामीण इलाके में सफाई के साथ सेनेटाइज कराया जाए, कन्टेनमेंट जोन में जिस परिवार में कोरोना मरीज निकला हो, उसी के घर को ही सीज किया जाए। इसके साथ ही क्योंकि 200 मीटर सील करने पर पूरा व्यापार प्रभावित होता है। इस मौके पर व्यापार मंडल अध्यक्ष सुधीर अग्रहरि के अलावा केके महंत, श्रीराम गुप्ता समेत अन्य पदाधिकारीगण मौजूद रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages