भगवान विश्वकर्मा की जयंती पर शस्त्रों की हुई पूजा - अर्चना - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Thursday, September 17, 2020

भगवान विश्वकर्मा की जयंती पर शस्त्रों की हुई पूजा - अर्चना

समाज के लोगों ने घरों पर भगवान विश्वकर्मा की उतारी आरती

फतेहपुर, शमशाद खान । सृष्टि शिल्पकार भगवान विश्वकर्मा की जयन्ती कोरोना काल की वजह से ज्यादा उत्साह के बीच नहीं मनाई गयी। समाज के लोगों ने जहां अपने-अपने घरों में भगवान विश्वकर्मा की आरती उतारी वहीं कुछ सरकारी कार्यालयों पीएसी व पुलिस लाइन शस्त्रागार में शस्त्रों की पूजा, नगर पालिका के जलकल परिसर, सिंचाई विभाग के उपखण्ड कार्यालय, विद्युत उपकेन्द्रों में जयन्ती पर आयोजन व ईष्ट की पूजा अर्चना की गयी। जिले भर के अलग-अलग क्षेत्रों में स्थापित फैक्ट्रियों व कारखानों में भी विश्वकर्मा पूजा श्रद्धा के साथ की गयी। 

नगर पालिका के जलकल विभाग में पूजा-अर्चना करते अध्यक्ष प्रतिनिधि व ईओ।

शहर के दक्षिणी गौतम नगर स्थित श्री विश्वकर्मा मन्दिर में कोरोना काल को देखते हुए समाज के कुछ लोगों ने वैदिक रीति रिवाज के तहत भगवान की पूजा अर्चना की। इसके अलावा समाज के लोगों ने घरों पर ही भगवान विश्वकर्मा को याद किया। सुबह से ही पूजा-अर्चना का दौर शुरू हो गया था। हवन-पूजन के साथ भगवान विश्वकर्मा की पूजा-अर्चना की गयी। मुराइनटोला स्थित पावर हाउस में भी विश्वकर्मा जयन्ती के अवसर पर पूजा-अर्चना का आयोजन किया गया। विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों ने भगवान विश्वकर्मा की जयन्ती पर औजारों की पूजा की। इसी तरह पुलिस व पीएसी शस्त्रागार के अलावा सिंचाई विभाग के उपखण्ड कार्यालय में भी भगवान विश्वकर्मा की पूजा-अर्चना का आयोजन किया गया। नगर पालिका परिषद के जलकल विभाग में अध्यक्ष प्रतिनिधि हाजी रजा व अधिशाषी अधिकारी मीरा सिंह ने हवन-पूजन के बीच औजारों की पूजा-अर्चना की। वहीं समाजवादी पार्टी कार्यालय में भी विश्वकर्मा जयन्ती मनाई गयी। जिलाध्यक्ष विपिन सिंह यादव की अध्यक्षता में गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें वक्ताओं ने कहा कि भगवान विश्वकर्मा सदैव पृथ्वीलोक के मानव कल्याण के कार्य हेतु अपना योगदान देकर इस श्रष्टी का निर्माण कार्यपूर्ण करके जन समुदाय को एक नई दिशा प्रदान किया। कार्यालय में उनके चित्र पर माल्यार्पण किया गया तत्पश्चात फल व मिष्ठान का वितरण किया गया। इस मौके पर प्रेमनाथ विश्वकर्मा, प्रेमनारायण विश्वकर्मा, कल्लू बाबा, जगजीवन विश्वकर्मा, राम बाबू विश्वकर्मा, श्रीराम विश्वकर्मा, सुरेन्द्र विश्वकर्मा, रज्जनलाल विश्वकर्मा, पुत्तन लाल विश्वकर्मा, राजन तिवारी, कपिल यादव, शमीम अहमद, चैधरी मंजर यार, आजम खान, जसवीर सिंह, अखण्ड प्रताप, प्रदीप सोनकर, श्रीकांत भोजवाल आदि मौजूद रहे। इसी तरह बिन्दकी व खागा तहसील के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों मे भगवान विश्वकर्मा जयन्ती पर विभिन्न कारखानों एवं प्रतिष्ठानों मे पूजा अर्चना की गयी। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages