कलेक्ट्रेट में पिछड़ी जाति के लोगों ने किया प्रदर्शन - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Tuesday, September 15, 2020

कलेक्ट्रेट में पिछड़ी जाति के लोगों ने किया प्रदर्शन

राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी कार्यालय में सौंपा 

17 पिछड़ी जातियों को अनुसूचित जाति में परिभाषित करने की मांग 

बांदा, के एस दुबे । सोमवार को एक सैकड़ा लोगों ने कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन किया और राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी कार्यालय में सौंपा। प्रदर्शन कर रहे पिछड़ी जाति के लोगों का कहना था कि 17 पिछड़ी जातियों को अनुसूचित जाति में परिभाषित किया जाए। इसके बाद लोगों का हुजूम सदर विधायक के आवास पहुंच गया और विधायक आवास के बार खड़े होकर लोगों ने नारेबाजी की। 

विधायक आवास के बाहर मौजूद लोग

प्रदर्शन कर रहे लोगों का कहना था कि यह जातियां और उप जातियां कई राज्यों में अनुसूचित जाति में हैं तो कई राज्यों में अन्य पिछड़े वर्ग में। इसलिए भी एक समान अनुसूचित जाति में करने की आवश्यकता है। देश में रोजगार की कमी होने के कारण देश के विभिन्न राज्यों में उक्त समुदाय के लोग निवास कर रहे हैं। जिनको सामान्य श्रेणी में गिना जाता है, इसलिए 2021 में प्रस्तावित जनगणना में जातिवार जनगणना कराकर संख्या के आधार पर आरक्षण सुनिश्चित किया जाना आवश्यक है। इन्हीं मांगों को लेकर कलेक्ट्रेट के बाद सोमवार को दोपहर में एक सैकड़ा से ज्यादा लोग विधायक प्रकाश द्विवेदी के आवास पहुँच गए। लोगो की मांग थी कि 17 पिछड़ी जातियों को अनुसूचित जाति में परिभाषित किया जाए। इस संबंध में पिछड़ी जाति के लोगो ने राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन विधायक को सौंपा। कई सूबों में जातियों का हवाला देते हुए कार्रवाई की मांग की। इस मौके पर रविशंकर धुरिया, मदन गोपाल कश्यप, अजय निषाद, रामगोपाल धुरिया समेत सैकड़ो लोग मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages