यमुना तट पहुंच पूर्वजों को याद कर किया तर्पण - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Wednesday, September 2, 2020

यमुना तट पहुंच पूर्वजों को याद कर किया तर्पण

जगम्मपुर (जालौन), अजय मिश्रा । बुधवार पचनद पर लोगों ने यमुना में  स्नान कर श्रद्धालुओं ने दान पुण्य किया। मनुष्य जिस परंपरा की कड़ी है पितर या पूर्वज उसका पहला भाग हैं। पूर्वजों के प्रति आदर व श्रद्धा के सोलह दिवसीय महापर्व पितर पक्ष की बुधवार सेे शुरूआत हो गई। हिंदू समाज के इस महापर्व के पहले दिन ही भारी संख्या में लोगों ने यमुना घाट पर पहुंचकर अपने पूर्वजों को याद करके तर्पण किया। घरों में श्राद्ध किए गए।

पूर्वजों को तर्पण करते लोग।

अश्विन मास के शुरुआती पंद्रह और उससे पहले की पूनम को मिलाकर सोलह दिन पूर्वजों का अनुग्रह पाने के लिए एक व्यवस्थित पर्व है। बुधवार से पितृ पक्ष की शुरुआत हो गई। रविवार की सुबह भारी संख्या में लोगों ने यमुना घाट पहुंचकर पूर्वजों को याद किया तथा पूजन कर तर्पण किया। इसी के साथ हिंदू समाज के प्रत्येक घर में पूर्वजों की पूजा तथा श्राद्ध किया गया। ऐसी मान्यता है कि हमारे जो पूर्वज स्वर्ग सिधार गए हैं उनकी पूजा-अर्चना और तर्पण से उनका अनुग्रह प्राप्त होता है। इस महापर्व पर लोग श्राद्ध भी करते हैं। श्राद्ध में ब्राह्मणों को भोज कराया जाता है। ऐसी मान्यता है कि ब्राह्मण को कराया गया भोज तथा दिया गया दान सीधे पितरों तक पहुंचता है और उनकी आत्मा तृप्त हो जाती है।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages