आबकारी सिपाही की अपहृत बेटी की बरामदगी के लिए खाक छान रही पुलिस - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Advt.

Saturday, September 5, 2020

आबकारी सिपाही की अपहृत बेटी की बरामदगी के लिए खाक छान रही पुलिस

फतेहपुर, शमशाद खान । शहर के सीओ सिटी कार्यालय के पीछे रहने वाले आबकारी सिपाही की कक्षा छह में पढ़ने वाली बेटी गुरूवार की सुबह अचानक घर से बाहर निकलने के बाद लापता हो गयी थी। परिवारीजनों ने काफी तलाश के बाद पुलिस को तहरीर दी थी। अपहरण की सूचना पर महकमे के अधिकारियों सहित शहर पुलिस के होश उड़ गये। पुलिस ने कई स्थानों पर दबिश दी। इतना ही नहीं एक धार्मिक रथ को भी भिटौरा रोड पर रोक कर जांच-पड़ताल की थी लेकिन नतीजा सिफर निकला था। शुक्रवार को भी पुलिस छात्रा की बरामदगी के लिए आवासीय इलाके के आस-पास के मकानों में तलाश अभियान चलाया लेकिन उसे सफलता नहीं मिली। 

आबकारी सिपाही शिवबरन का आवास।

बताते चलें कि सीओ सिटी कार्यालय के पीछे ताम्बेश्वर नगर मुहल्ले में शिवबरन का परिवार रहता है। शिवबरन आबकारी विभाग में सिपाही के पद पर कानपुर में तैनात है। उसकी 11 वर्षीय बेटी एवं कक्षा छह की छात्रा अर्निमा उर्फ शिमानी घर से बाहर निकली थी लेकिन उसके बाद वह वापस नहीं आयी। छोटा भाई पड़ोस में ही दुकान से बिस्कुट लेने गया था। बेटा घर वापस आया तो बहन को कमरे से गायब देखा तभी उसकी खोजबीन शुरू कर दी। पड़ोस में रहने वाले रिश्तेदार के घर में सीसीटीवी फुटेज में शिमानी घर के पीछे वाली गली में करीब 10 बजकर 25 मिनट पर जाती हुयी दिखी। जिसके बाद से उसका कोई पता नहीं लगा। इसी दौरान एक धार्मिक रथ लेकर कुछ लोग गुजरे थे। पुलिस ने शंका के आधार पर रथ को तलाशा तो भिटौरा हाईवे चैराहे पर मिला। पुलिस ने इन लोगों से भी पूछताछ की लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला। शहर से अपहरण की खबर पर अधिकारियों के हाथ-पांव फूल गये और बरामदगी के लिए जाल बिछा दिया गया। शिमानी के पिता शिवबरन का कहना है कि उनकी कोई भी पारिवारिक रंजिश नहीं है और न ही उनके फोन पर किसी तरह की फिरौती की मांग की गयी है। शहर कोतवाल रवीन्द्र श्रीवास्तव ने बताया कि शिमानी की बरामदगी के लिए संदिग्ध ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है। फिलहाल फिरौती की कोई बात अभी तक परिजनों ने नहीं बताई है फिर भी पुलिस सभी बिन्दुओं पर जांच-पड़ताल कर रही है। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages