सरकारी भूमि, तालाबो का अतिक्रमण हटाये - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Advt.

Tuesday, September 8, 2020

सरकारी भूमि, तालाबो का अतिक्रमण हटाये

भूमाफिया चिन्हित किये जायें

हमीरपुर, महेश अवस्थी । जिलाधिकारी डॉ ज्ञानेश्वर त्रिपाठी  ने कर करेत्तर की समीक्षा बैठक में कहा कि यह प्रगति आगे भी जारी रहेगी। अन्य विभागों द्वारा इसी प्रकार से उत्कृष्ट कार्य किया जाय। बिना किसी पूर्व सूचना के बैठक मे जिला आबकारी अधिकारी के अनुपस्थित रहने पर जिलाधिकारी ने कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुए वेतन रोकने के निर्देश दिए। 

   जिलाधिकारी ने कहा कि वाणिज्य कर विभाग द्वारा  वसूली में प्रगति बढ़ाई जाए  तथा कैंप लगाकर जीएसटी में अधिक से अधिक लोगों का पंजीयन कराया जाए  । एआरटीओ विभाग द्वारा  ओवरलोड , डग्गामार वाहनों  पर लगातार प्रवर्तनीय कार्रवाई की जाए।  जिलाधिकारी ने कहा कि  विभिन्न प्रकार की  वसूली के अंतर्गत  कोर्ट में केवल वाद दायर करने के आधार पर आर सी वापस ना की जाए , अब तक वापस की गई आरसी का  किस आधार पर वापसी की गई, इसका परीक्षण किया जाए  । उन्होंने कहा कि नगर पालिका द्वारा लक्ष्य के अनुसार अपनी प्रगति बढ़ाई जाए। उन्होंने कहा कि  कोई भी ईट भट्ठा बिना रॉयल्टी जमा किए नहीं चलना चाहिए, यह सुनिश्चित किया जाय।  प्रभागीय वनाधिकारी द्वारा जनपद की अधिकृत आरा मशीनों की सूची दी जाए  तथा अब तक अवैध


आरा मशीनों पर क्या कार्यवाही की गई है । इसको  अवगत कराया जाए, सभी आरा मशीनो का जीएसटी में पंजीयन सुनिश्चित किया जाय  तथा नियमित रूप से उसके स्टॉक रजिस्टर को चेक किया जाय।  उन्होंने कहा कि विद्युत विभाग द्वारा  कटियाबाजो  पर  कारवाई की जाए  तथा  विद्युत की  बेहतर उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। राजस्व कार्यो की समीक्षा में जिलाधिकारी ने कहा कि सभी तहसीलों में वाद रजिस्टर होने चाहिए ,इसमें सभी प्रकार के वाद को अंकित किया जाय तथा सभी प्रकार के वादों का समय पर जवाब दाखिल किया जाए ।दैवीय आपदा से पीड़ितों को 48 घंटे के अंदर राहत प्रदान की जाए। कृषक दुर्घटना कल्याण योजना के कोई भी प्रकरण शेष नहीं रहना चाहिए । सभी तहसीलदारो द्वारा यह सुनिश्चित किया जाय। मानव संपदा पोर्टल पर कर्मियों का शत प्रतिशत डाटा फीड कराया जाए । सरकारी भूमि ,खलियान  से  अतिक्रमण हटाने की नियमित रूप से कार्रवाई की जाए । तालाबों से अतिक्रमण हटाने का नियमित रूप से अभियान चलाया जाए। उन्होंने कहा कि जिन कृषकों द्वारा पिछली बार पराली जलाई गई है। इस बार जलाने पर उनपर अधिकतम जुर्माना लगाया जाए , एफ आई आर भी दर्ज कराई जाएगी । इसके लिए एसडीएम द्वारा पहले से ही उनको नोटिस दे दी जाए ,ताकि पराली ना जलने पाए । भू माफियाओ को चिन्हित कर उन पर कार्यवाई की जाय । बैठक में अपर जिलाधिकारी , जोइंट मजिस्ट्रेट/ एसडीएम सदर , मौदहा, राठ व सरीला ,उपायुक्त वाणिज्य कर मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages