धरने पर बैठे विद्युत अधिकारी, कर्मचारी - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Advt.

Tuesday, September 29, 2020

धरने पर बैठे विद्युत अधिकारी, कर्मचारी

आमजन से आंदोलन के समर्थन में उतरने की अपील

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। निजीकरण के विरोध में विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति ने मशाल जुलूस के बाद अधीक्षण अभियंता कार्यालय के बाहर धरना शुरू कर दिया है। 

मंगलवार को विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति ने ऊर्जा क्षेत्र के निजीकरण के विरोध में केन्द्रीय कार्यकारिणी के आवाहन पर अधिकारी, कर्मचारियों ने अधीक्षण अभियंता कार्यालय के बाहर धरने पर बैठ गए। जूनियर इंजीनियर संघ के अध्यक्ष अनुपम कुमार ने कहा कि निजीकरण से बिजली दरों में अचानक वृद्धि होगी।

धरने पर बैठे अधिकारी, कर्मचारी।

उन्होंने आमजन से आंदोलन में शामिल होने की अपील करते हुए कहा कि पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम का निजीकरण किसी भी तरह से कर्मचारी व जनता के हित में नहीं है। निजी कंपनी मुनाफा के लिए काम करती है। इस मौके पर अधीक्षण अभियंता केपी मित्तल, एक्सईएन अनिल दुबे, एसडीओ आशीष सिंह, रोहन सिंह, जेई सौरभ अग्रहरि, राजकुमार, विनय, रंजीत, शिवप्रकाश अवस्थी, सीताराम, अनिल कुमार, दिलीप शर्मा, अजय कुमार, उन्मतलाल, नंदलाल, शिवसागर, लक्ष्मी आदि अधिकारी, कर्मचारी व संविदा कर्मी मौजूद रहे।  

कार्यकारिणी का हुआ गठन

चित्रकूट। विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति कार्यकारिणी का गठन मंगलवार को हुआ। जिसमें संयोजक इं अनिल दुबे, सह संयोजक इं हमेन्द्र सिंह, मंत्री रामचरण चैधरी, उप मंत्री शिव प्रकाश अवस्थी, मीडिया प्रभारी लक्ष्मी पाल व राजेश कुमार गुप्ता, अनुपम कुमार, शिवकुमार, वकीलराम, उमतलाल, विनोद कुमार सदस्य बनाए गए हैं।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages