कलेक्ट्रेट में सपाइयों का प्रदर्शन, सीएम योगी का पुतला फूंका - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Monday, September 14, 2020

कलेक्ट्रेट में सपाइयों का प्रदर्शन, सीएम योगी का पुतला फूंका

सूबे की सरकार पर जनविरोधी कार्य करने का आरोप 

बांदा, के एस दुबे । समाजवादी पार्टी के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने लामबंद होकर सोमवार को कलेक्ट्रेट में योगी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। निजीकरण और बेरोजगारी के विरोध में जमकर नारेबाजी करते हुए सरकार को हर मसले पर नाकाम बताया। राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी कार्यालय में सौंपा और लोहिया वाहिनी पदाधिकारियों ने जेएन कालेज के सामने मुख्यमंत्री के पुतले को आग के हवाले करते हुए जमकर नारेबाजी की। बाद में पहुंची पुलिस ने सपाइयों को डंडा पटककर खदेड़ दिया।

कलेक्ट्रेट की ओर जाते सपाई और कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन करते सपा कार्यकर्ता व पदाधिकारी

प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर जिला समाजवादी पार्टी, युवजन सभा, छात्र सभा, लोहियी वाहिनी समेत पार्टी के सभी फ्रंटल संगठनों ने सोमवार को प्रदेश सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन किया। लोहिया नगर (बिजलीखेड़ा) स्थित पार्टी कार्यालय से सपाइयों का हुजूम जुलूस में तब्दील हो गया और नारेबाजी करता हुआ कलक्ट्रेट की ओर रवाना हुआ। प्रदर्शनकारी नारेबाजी कर रहे थे और जुमलेबाजी बंद करो, युवाओं को रोजगार दो के बैनर लिए हुए थे। प्रदेश सरकार और जिला प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए सपा कार्यकर्ता कलक्ट्रेट पहुंचे। नारेबाजी के दौरान सपाइयों की पुलिस के साथ तीखी नोकझोंक शुरू हो गई। अंततः सपा कार्यकर्ताओं के कड़ा विरोध जताने
जेएन कालेज के सामने मुख्यमंत्री का पुतला फूंकते लोहिया वाहिनी पदाधिकारी व कार्यकर्ता

पर सुरक्षा कर्मी पीछे हट गए। केंद्र और प्रदेश सरकारों के खिलाफ सपाइयों ने कलक्ट्रेट परिसर में देर तक नारेबाजी की। बाद में सपा जिलाध्यक्ष विजयकरन यादव की अगुवाई में राज्यपाल को संबोधित छह सूत्रीय ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट सुरेंद्र सिंह को सौंपा। इसमें कहा है कि मोदी-योगी राज में किसान परेशान हैं। शिक्षा महंगी हो गई है। बेरोजगारी बढ़ गई है। आरक्षण को खत्म किया जा रहा है। निजीकरण से रोजगारों की संख्या में कमी आ रही है। योगी सरकार में भ्रष्टाचार फल फूल रहा है। उनकी मांगों पर संज्ञान लेते हुए शीघ्र उचित कदम उठाने की मांग की। खबरदार किया कि सरकार ने शीघ्र ही कोई उचित कदम न उठाया और जन विरोधी फैसलों को वापस नहीं लिया तो समाजवादी पार्टी फिर से सड़कों पर उतर कर आंदोलन और प्रदर्शन करेंगे। इस मौके पर सपा छात्र सभा प्रदेश सचिव ओम नारायण त्रिपाठी ‘विदित’, पीयूष गुप्ता, जिला कोषाध्यक्ष प्रियांशु गुप्ता, महासचिव मोहम्मद हनीफ, यूथ ब्रिगेड जिलाध्यक्ष राघवेंद्र सिंह चंदेल ‘राजन’, युवजन सभा जिलाध्यक्ष आमिर खां मन्नी, जिला उपाध्यक्ष अशोक श्रीवास, वृंदावन वैश्य, अजय चैहान दादा, सलमान खां, राजेंद्र यादव, अशोक भागवानी, रामसागर, रोहित प्रजापति, रिशु पांडेय, प्रदीप सिंह परिहार ‘बउवा’, आशीष श्रीवास्तव समेत तमाम सपा पदाधिकारी और कार्यकर्ता शामिल रहे। इधर, लोहिया नगर स्थित पार्टी कार्यालय से जुलूस की शक्ल में नारेबाजी करते हुए सपाइयों का हुजूम


कलक्ट्रेट पहुंचा। यहां पुलिस अधीक्षक कार्यालय के पास सपाइयों के हुजूम को रोकने के लिए पुलिस फोर्स तैनात रहा। नारेबाजी करते हुए जुलूस कलक्ट्रेट के नजदीक पहुंचा तो पुलिस कर्मियों ने उन्हें रोक लिया। सपा कार्यकर्ताओं और पुलिस कर्मियों के बीच तीखी नोकझोंक के साथ धक्का-मुक्की शुरू हो गई। बाद में सपा कार्यकर्ताओं के कड़ा विरोध जताने पर सुरक्षा कर्मी पीछे हट गए। 

इधर, प्रदेश सरकार की जन विरोधी नीतियों के विरोध में सपाइयों ने एक ओर जहां कलक्ट्रेट में जोरदार प्रदर्शन किया तो दूसरी ओर सपा लोहिया वाहिनी कार्यकर्ताओं ने खुलेआम पंडित जेएन कालेज के सामने मुख्यमंत्री योगी का पुतला आग के हवाले कर दिया और जमकर नारेबाजी की। लोहिया वाहिनी कार्यकर्ता मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का पुतला छिपाकर लाए थे। सीएम के प्रतीकात्मक पुतले में माचिस लगते ही पुआल में आग भड़क उठी। पुलिस और खुफिया विभाग को पुतला फूंकने की भनक भी नहीं लगी। कुछ देर बाद खबर मिलते ही मौके पर पहुंचे पुलिस कर्मियों ने पुतला फूंकने वालों को लाठियां पटक कर खदेड़ दिया। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages