बुविवि को उत्तर - प्रदेश सरकार दे ग्रांट - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, September 14, 2020

बुविवि को उत्तर - प्रदेश सरकार दे ग्रांट

उच्च शिक्षा में बच्चों का भविष्य खतरे में

हमीरपुर, महेश अवस्थी । बुंदेलखंड का बुंदेलखंड विश्वविद्यालय झांसी जीरो ग्रांट विश्वविद्यालय है। इस विश्वविद्यालय को ना तो उत्तर प्रदेश सरकार एक पैसा देती है, और ना ही केंद्र सरकार कोई सहायता करती है।

 यह बात जिलाध्यक्ष सत्येन्द्र अग्रवाल ने राज्यपाल को भेजे ज्ञापन में कही ।उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड विश्वविद्यालय झांसी बुंदेलखंड के 7 जिलों को उच्च शिक्षा की सुविधाएं देता है । केंद्र सरकार की संस्था बीआरजीएफ यानी बैकवर्ड रीजन ग्रांट फंड के अंतर्गत झाँसी को छोड़कर बुंदेलखंड के सभी जिले आते हैं । यह विचारणीय प्रश्न है , कि जिस  जिले का  हिंदुस्तान के सर्वाधिक पिछड़े जिलों में शुमार हों, उनमें उच्च शिक्षा के लिए जीरो ग्रांट


विश्वविद्यालय दिया जाए । यह तो बुंदेलखंड की जनता के साथ मजाक है। जो बच्चा कक्षा 12 में अधिकतम 500 रु वार्षिक शुल्क देकर पास होकर निकलता है, उसी को बुंदेलखंड विश्वविद्यालय में ₹50000 सालाना शुल्क देना होता है। ये कैसा अन्याय है। बुंदेलखंड गरीब किसानो का प्रदेश है,  किसानों के पास पैसा नहीं है  । आखिर इन गरीब किसानों के बच्चों की उच्च शिक्षा की जिम्मेदारी किसकी है ?   हमारी मांग है कि बुंदेलखंड विश्वविद्यालय झांसी को उत्तर प्रदेश सरकार अनुदान दे ताकि बुंदेलखंड के गरीब किसानों के बच्चे इस विश्वविद्यालय में न्यूनतम दर पर पढ़ाई कर सकें  । उन्हें न्यूनतम दर पर छात्रावास की सुविधा मिल सके। इस संबंध में कोई कार्यवाही ना किए जाने पर बुंदेलखंड क्रांति दल आंदोलन करने के लिए बाध्य होगा ।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages