कोविड हास्पिटल में उपलब्ध रहें सुविधाएं: डीएम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Sunday, August 23, 2020

कोविड हास्पिटल में उपलब्ध रहें सुविधाएं: डीएम

डीएम ने बैठक में की समीक्षा, अधिकारियों को सतत निगरानी के दिए निर्देश

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में गत दिवस रात्रि में उत्तर प्रदेश शासन के व्हाट्स एप मैसेज के अंतर्गत दिए गए निर्देशों के क्रम में एकीकृत कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर कलेक्ट्रेट में बैठक का आयोजन हुआ। 

जिलाधिकारी ने कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर मैं कार्यरत अधिकारियों एवं कर्मचारियों के उपस्थिति की जांच की। जिसमें सभी उपस्थित पाए गए। कंट्रोल सेंटर में प्रतिदिन की कार्यवाही को बनाए गए रजिस्टरों का अवलोकन किया। निर्धारित प्रारूप पर बने मिले। रजिस्टर में प्राप्त सूचना का नियमित रूप से अंकन किया जा रहा है। कंट्रोल सेंटर के माध्यम से कोविड में भर्ती रोगियों एवं होम आइसोलेशन में रहे कोविड रोगियों से नियमित रूप से वार्ता करते हुए उनके स्वास्थ्य के संबंध में फीडबैक प्राप्त करते हुए अपेक्षित कार्यवाही की जा रही है। उन्होंने कहा कि लगातार यह प्रक्रिया जारी रहे। बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार ने बताया कि हाउस

बैठक में समीक्षा कर निर्देश देते डीएम।
टू हाउस सर्वे टीमों द्वारा शासनादेश के क्रम में सर्विलांस की कार्यवाही प्रभावी ढंग से की जा रही है। प्रतिदिन समस्त संदिग्ध लक्षण युक्त व्यक्तियों की शत प्रतिशत सैंपलिंग कराई जा रही है। कोई भी लक्षण युक्त संदिग्ध सैंपलिंग को अवशेष नहीं है। गत 24 घंटे में प्राप्त समस्त संज्ञानित धनात्मक प्रकरणों के कांट्रैक्ट्स की 24 घंटे के अंदर ट्रेसिंग कराते हुए समस्त कांट्रैक्ट का सैंपल टेस्ट कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारियों एवं उप मुख्य चिकित्सा अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है। जिनके द्वारा दायित्वों का निर्वहन किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त जनपद में तैनात अन्य चिकित्सकों द्वारा भी कोविड-19 वैश्विक महामारी के दृष्टिगत निर्धारित प्रोटोकाल का पालन कराया जा रहा है। पॉजिटिव मरीजों को 24 घंटे के अंदर उनके लक्षणों के अनुसार एल वन कोविड हॉस्पिटल, एल टू कोविड हॉस्पिटल तथा होम आइसोलेशन में भेजते हुए समुचित उपचार किया जा रहा है और आरआरटी टीम द्वारा सभी होम आइसोलेशन में भर्ती रोगियों का निर्धारित प्रोटोकॉल के अनुसार नियमित रूप से समुचित उपचार किया जा रहा है। एकीकृत कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर के माध्यम से कोविड हॉस्पिटल में भर्ती तथा होम आइसोलेशन में रहे रोगियों से नियमित वार्ता करते हुए उनके स्वास्थ्य के संबंध में फीडबैक प्राप्त किया जा रहा हैं। 

जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए कि ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र में गठित निगरानी समितियों से सर्विलांस टीम संपर्क कर बाहर से आए हुए व्यक्तियों की जानकारी करते हुए उनका चिकित्सीय परीक्षण कराया जाए। कोविड धनात्मक रोगियों के समुचित उपचार के लिए समस्त संबंधित को निरंतर निर्देश निर्गत किए जाएं। किसी भी कोविड धनात्मक रोगी की मृत्यु की दशा में मृत्यु के कारणों का भलीभांति परीक्षण एवं जांच किए जाने को भी निर्देशित करें। उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को यह भी निर्देश दिए कि कोविड 19 को देखते हुए वर्तमान में एएलएस एवं एंबुलेंस की व्यवस्था के लिए शासन से मांग की जाए। उन्होंने कहा कि कोविड-19 में तैनात चिकित्सकों को अपनी ड्यूटी के समय भर्ती समस्त रोगियों को कम से कम तीन बार देखने उनके तापमान एवं ऑक्सीजन लेवल मापने के निर्देश प्रभावी पर्यवेक्षण की कार्यवाही सुनिश्चित कराएं। कहां कि खोह स्थित एमसीएच विंग में एल टू कोविड हॉस्पिटल के लिए निर्धारित मानदंडों के अनुरूप आईसीयू बेड एवं ऑक्सीजन सप्लाई बेडस सहित वर्तमान की स्थिति को देखते हुए उपलब्ध रहें। आवश्यक दवाइयों एवं उपकरणों की नियमित उपलब्धता सुनिश्चित कराई जाए। उन्होंने कहा कि उपर्युक्त बिन्दुओं के संबंध में निरंतर सतत निगरानी रखते हुए आपेक्षित कार्यवाही सुनिश्चित करें। किसी भी प्रकार की कोई समस्या नहीं होनी चाहिए। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अमित आसेरी, अपर जिलाधिकारी जीपी सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार, उप जिलाधिकारी कर्वी राम प्रकाश, जिला कृषि अधिकारी बसंत कुमार दुबे सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages