स्कूलों की फीस माफी व शिक्षकों के लिए कांग्रेसियों ने मांगी मदद - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Friday, August 7, 2020

स्कूलों की फीस माफी व शिक्षकों के लिए कांग्रेसियों ने मांगी मदद

कांग्रेस ने राज्यपाल को भेजा ज्ञापन 

फतेहपुर, शमशाद खान । जिला कांग्रेस कमेटी ने पिछले चार माह से वैश्विक महामारी के चलते रोजगार में प्रतिकूल असर पड़ने के कारण मध्यम आय वर्ग के अभिभावकों को अपने बच्चों की फीस जमा करने समस्त न्यायालयों में काम बंद होने के कारण अधिवक्ताओं की आय पर प्रतिकूल असर सहित शिक्षक व कर्मचारियों को जहां वेतन दिये जाने की मांग की वहीं चार माह की फीस को भी माफ कराये जाने का अनुरोध किया है। 

जिलाधिकारी के माध्यम से राज्यपाल को भेजे गये ज्ञापन में जिला कांग्रेस कमेटी ने कहा कि प्रदेश में संचालित यूपी बोर्ड, सीबीएसई व आईसीएसई सहित अन्य बोर्डों के छात्रों की चार माह की फीस को माफ किया जाये। साथ ही इन शिक्षण संस्थानों में कार्यरत मान्यता/गैर मान्यता प्राप्त शिक्षकों एवं कर्मचारियों को कम से कम आठ हजार रूपये प्रतिमाह की सहायता प्रदान की जाये। यह भी कहा गया कि नये सत्र की किताबों व ड्रेस में भी बदलाव भी न किया जाये। बड़े प्रदेश में स्थित विभिन्न न्यायालयों में लाखों की संख्या में प्रैक्टिस कर रहे वकीलों की आमदनी महामारी में लाकडाउन के चलते नगण्य हो गयी है ऐसे में सरकार अधिवक्ताओं को कम से कम दस हजार रूपये

कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन करते कांग्रेसी।
महीने के हिसाब से मानदेय मुहैया कराये। यह भी कहा गया कि मध्यम वर्ग के ऐसे परिवार जिन्हें न तो प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ मिला है और न ही सरकार की अन्य पेंशन योजनाओं का लाभ मिल रहा है। ऐसे में उनकी वार्षिक आमदनी दो लाख रूपये के अंदर होने पर जिन लोगों ने ऋण ले रखा है उनकी चार महीने की ईएमआई या मनरेगा मजदूरों के मानदेय के बराबर बीस हजार रूपये तक की रकम माफ करके प्रभावित लोगों को राहत दिलाई जाये। ज्ञापन देने वालों में शिवाकांत तिवारी, हेमलता पटेल, मोहसिन खान, सुधाकर अवस्थी एडवोकेट, नावेद आलम, पंकज सिंह गौतम, इशरत खां, एमएल श्रीवास, वीरेन्द्र गुप्ता, अशोक दुबे, चन्द्र प्रकाश लोधी उर्फ चंदन बाबू, मिस्बाउल हक, रोहित अवस्थी, मुजाहिद हुसैन, अरशद अली, अब्दुल हफीज, जाफर खां, राहुल यादव, अनिकेत सिंह पटेल, नावेद आलम आदि रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages