नई शिक्षा नीति का आन लाइन प्रशिक्षण - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Sunday, August 30, 2020

नई शिक्षा नीति का आन लाइन प्रशिक्षण

शिक्षण आंनददायी  व रुचिकर हो

हमीरपुर, महेश अवस्थी  । आई ए एस ई प्रयागराज एवं एमिटी यूनिवर्सिटी लखनऊ के संयुक्त तत्वाधान में 20 एपिसोड के राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 पर चल रहे  वेबीनार के दूसरे एपिसोड में व्याख्यान सत्र का शुभारंभ अपर निदेशक बेसिक शिक्षा ललिता प्रदीप ने कहा कि एनईपी का उद्देश्य उत्पादक व्यक्तियों को तैयार करना है ,जो कि अपने संविधान द्वारा परिकल्पित समावेशी और बहुलता वादी समाज के निर्माण में बेहतर तरीके से योगदान कर सकें। प्रथम सत्र के वक्ता के रूप में एमिटी यूनिवर्सिटी लखनऊ की असिस्टेंट प्रोफेसर डॉक्टर ऋचा रघुवंशी एवं आईएएसई से दरख्शां आब्दी ने स्कूलों में पाठ्यक्रम और शिक्षण शास्त्र अधिगम समग्र एकीकृत आनंददायी एवं रुचिकर शिक्षा विषय पर विचार रखे, राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी एन टी ए, ऑनलाइन संसाधन का प्रयोग मूल्यांकन एवं आंकलन के मानक विषय पर अपने-अपने विचार रखे। राष्ट्रीय शिक्षा नीति में वर्णित शिक्षक विषय पर चर्चा करते हुए कोलकाता विश्वविद्यालय की एसोसिएट प्रोफेसर डॉ सुदेशना लाहिरी एवं राष्ट्रपति पदक प्राप्त शिक्षक डॉक्टर


सर्वेष्ट मिश्र ने कहा कि उत्कृष्ट शिक्षक चयन हेतु मेरिट आधारित छात्रवृत्ति, शिक्षक भर्ती परीक्षा, स्कूल का वातावरण एवं कार्य संस्कृति में परिवर्तन, नेतृत्व कौशल, वेतन भत्ते, पदोन्नति, क्षमता संवर्द्धन कोर्स, समता मूलक समाज हेतु शिक्षक की भूमिका, बुनियादी समझ, नामांकन उपस्थिति  शिक्षक से जुड़े प्रावधान विस्तार से राष्ट्रीय शिक्षा नीति में वर्णित है। समतामूलक और समावेशी शिक्षा सभी के लिए अधिगम विषय पर आई ए एस ई प्रयागराज से स्मिता जायसवाल ने विद्यालय की स्थिति, दिव्यांगों  की विद्यालय तक पहुंच, सुविधा एवं  उपलब्ध अवसर  पर विस्तार से अपनी बात रखी।

वेबीनार का संचालन असिस्टेंट प्रोफेसर एमिटी यूनिवर्सिटी लखनऊ डॉ जयंती श्रीवास्तव ने किया ।वेबीनार से हजारों की संख्या में शिक्षक अभिभावक ऑनलाइन प्लेटफॉर्म से लाइव जुड़े और अपने विचारों को भी साझा किया। इस  प्रदेश स्तरीय नई शिक्षा नीति के कार्यक्रम में जनपद हमीरपुर से अपर निदेशक बेसिक द्वारा श्री अकबर अली को कोर टीम में रखा गया है। जिससे जनपद के शिक्षकों में हर्ष है। इस   वेबीनार में लिंक के माध्यम के साथ ही फेसबुक एवं यू ट्यूब से लाइव 5000 शिक्षक शिक्षाविद अभिभावक एवं प्रशिक्षु शिक्षक जुड़कर नई शिक्षा नीति पर समझ विकसित कर रहे है ।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages