त्योहारों की गूंज के बाद भी चैक की सड़कों पर पसरा रहा सन्नाटा - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Sunday, August 2, 2020

त्योहारों की गूंज के बाद भी चैक की सड़कों पर पसरा रहा सन्नाटा

बकरीद व रक्षाबंधन में बाजार की रौनक कोरोना ने छीनी
 
फतेहपुर, शमशाद खान । देश भर में जहाँ कोरोना महामारी की वजह से बाजारो की रौनक गायब है। जबकि सरकार द्वारा अनलॉक-3 के तहत सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए प्रतिष्ठानों को खोलने की अनुमति मिलने के बाद भी चैक स्थित बाजार के कन्टेनमेन्ट जोन घोषित होने के कारण आज भी सन्नाटा पसरा हुआ है। बकरीद व रक्षाबंधन के पर्व पर बाजार में आम तौर पर होने वाली भीड़ को इस बार कोरोना महामारी ने तो मानो ग्रहण लगा ही दिया। कोरोना पाजिटिव मिलने पर चैक क्षेत्र के कन्टेनमेन्ट एरिया घोषित होने वजह से समूचे बाजार सील है। बकरीद व रक्षाबंधन पर होने वाले व्यापार के बन्द होने से दुकानदारो में मायूसी है। कोरोना काल व लॉकडाउन की बन्दी के बाद दुकाने खुलने से लोगों को राहत मिली थी। त्योहारों के मौसम में दुकानदारों द्वारा माल भी मांग लिया गया था लेकिन एक के
चौक बाजार में पसरे सन्नाटे का दृश्य।
बाद एक क्षेत्र में कोरोना पाजिटिव मरीज मिलने से पूरे बाजार को सील कर दिया गया। आम तौर पर त्योहारों के समय चैक बाजार में लोगों की खासी भीड़ रहती थी। इस दौरान दुकानदार जमकर बिक्री करते थे। लॉकडाउन के बाद प्रशासन द्वारा छूट के साथ बिक्री करने की अनुमति मिलने के बाद शहर के सभी बाजार तो पर्व की खुशियों से गुलजार है लेकिन कन्टेनमेन्ट एरिया घोषित होने के कारण चैक बाजार से इस बार त्योहारों की चमक पूरी तरह गायब है। बाजार के दोनों ओर की दुकाने बन्द और सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ है। वहीं व्यापारियों की माने तो कोरोना आपदा की वजह से व्यपार चैपट हो गया है। बकरीद व रक्षाबंधन के समय बिक्री होने से उन्हें अपने व्यापार के घाटे से उबरने की उम्मीद थी लेकिन त्योहार के समय क्षेत्र के कन्टेनमेन्ट जोन घोषित होने से बाजार बाजार बन्द कर दिया गया इससे व्यापारी निराश है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages