कोरोना संक्रमित संख्याओं में निरंतर बढ़ोत्तरी................ - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Saturday, August 29, 2020

कोरोना संक्रमित संख्याओं में निरंतर बढ़ोत्तरी................

देवेश प्रताप सिंह राठौर

........उत्तर प्रदेश में पूरे भारत में और विश्व के बहुत सारे लगभग सभी देशों में कोरोनावायरस संक्रमित की संख्या में निरंतर वृद्धि हो रही है,सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्र हैं, जिसमें 7 जिले उत्तर प्रदेश में चयन  हुए हैं,  जहां पर कोरोना वायरस के मरीजों में अधिक संक्रमित लोग पाए जा रहे हैं सबसे पहले लखनऊ आता है उत्तर प्रदेश की राजधानी दूसरा कानपुर तीसरा प्रयागराज चौथा बरेली पांचवा झांसी छठा गोरखपुर सातवां आगरा यह जिले हैं जहां पर कोरोनावायरस की बहुत तेजी से बढ़ रहा है! हाईकोर्ट ने भी इन जिलों की बढ़ने कोरोना वायरस संक्रमित के संदर्भ में चिंता व्यक्त की है!वैसे बहुत सी अटकलें लगने की संपूर्ण लॉकडाउन उत्तर प्रदेश में होना चाहिए मेरी राय में संपूर्ण लॉकडाउन  कोरोनावायरस को रोकने का एक उपाय समझ में नहीं आता है !क्योंकि कोरोनावायरस के बचाव के लिए शक्ति सरकार करें सोशल डिस्टेंस बनाने का जो पालन ना कर रहे हैं उनके साथ अधिक शक्ति करने की जरूरत है! तथा जिस तरह से अटकलें चल रही है लॉकडाउन कि मेरा मानना है कि लॉकडाउन समस्या का समाधान नहीं है इससे आर्थिक, मानसिक परेशानी से पूरा देश प्रदेश परेशान होने की स्थित बन जाती है हर जनमानस क्योंकि इसके पूर्व संपूर्ण लॉकडाउन पूरा भारत रहा,  उसमें भी इतना लाभ नहीं मिला जितना हम हमारी सरकार कोरोना वायरस को रोकने में पूर्ण रूप से लॉकडाउन में वह रिजल्ट प्राप्त नहीं हुआ जिसकी उम्मीद थी। कोरोना वायरस संक्रमित को रोकने के लिए सीमित संख्याओं में विभाग में कर्मचारियों का आवागमन किया जाए और उन व्यक्तियों को आपस में प्रतिशत के हिसाब से ऑफिस में बैठे हैं सौ परसेंट अगर व्यक्त काम कर रहा है आप इसमें तो 50% एक दिन 50% तीसरे दिन इस तरह से दिनों को बांट कर कार्य करने की जरूरत है। और दिनों के हिसाब से दुकानें खोलने की जरूरत है, पूरा मार्केट एक साथ खोलने से दिक्कतें पैदा हो रही हैं। सरकार की गाइडलाइन जो है लेकिन उसका गाइड लाइन का पालन बिल्कुल नहीं हो रहा है ।किस जिले के जिला अधिकारी हैं वह पालन नहीं करा पा रहे हैं, सभी जगह सोशल डिस्टेंस तोड़ा जा रहा है कोरोना संक्रमित लोग बढ़ोतरी हो रही है। नियम कानून कोई मान नहीं रहा है इसलिए मेरा मानना है कि कोरोना वायरस संक्रमित भारत में विश्व में सबसे अधिक कुछ महीने में हो जाएंगे क्योंकि यहां पर कोई पालन करता है , कोरोना वायरस संक्रमित के लिए उसका उपहास उड़ाते हैं, माहौल विभागों का बना हुआ है जो दर्शाता है कोरोना वायरस  बढ़ने के संकेत इस देश को नियम ना मानने वाले लोग बहुत संख्या में है। लॉकडाउन लगाना मेरी स्थिति में ठीक नहीं है बिलाडा उनसे प्रदेश एवं हर जनमानस आर्थिक रूप से मानसिक रूप से और शारीरिक रूप से टूट जाता है और तथा जिस उद्देश्य करुणा वायरस चौक में इतना बड़ा जिस उद्देश्य लाभ डाउन लगाया जाता है वह इस तू कोरोना संक्रमित को कम करने में अधिक सक्षम और अच्छे रिजल्ट देखने को नहीं मिले इसलिए संपूर्ण लॉक डाउन  उचित नहीं है।रिया चक्रवर्ती पर खुलकर आरोप लगाया है। उनका कहना है कि रिया उनके बेटे की हत्यारी है। वह उसे लंबे वक्त से जहर दे रही थी। सुशांत के पिता के के सिंह अपने बेटे के आकाशमिक निधन पर बहुत ही ज्यादा चिंतित और न्याय के प्रति समर्पित हैं। उन्हें पूरा भरोसा है न्याय प्राप्त होगा और चाहते हैं कि मेरे बेटे को न्याय मि मां बाप यह कभी नहीं सोचते हैं कि जीवनकाल में रहते बेटा दत्त हो जाए कि बेटा उस पिता के रहते हैं बेटे की सामने मृत हो जाए तो वह समय बहुत ही कष्ट दाई उस पिता के लिए होता है किसका जवान बेटा उसके जीवित रहते ना रहे वह समय बहुत बड़ा सदमा एवं कष्ट दाई होता है ।वाप के जीवित रहते में ही उसकी मृत्यु हो जाए इससे दुखद कोई और चीज सामने नहीं दिखती है ।जितना बड़ा कष्ट उस पिता को होता है सत्य असत्य क्या है तो सीबीआई जांच कर ही रही है ,लेकिन जो सुशांत सिंह के साथ हुआ या नहीं हुआ आत्महत्या है हत्या है इसका खुलासा होना जरूरी है ।और सीबीआई इसकी जांच कर दूध का दूध पानी का पानीअलग कर देगी देश के सामने रखेगी लेकिन अब ड्रग्स माफिया  एक और मसला ड्रग्स  माफियाओं से जुड़ा होने की रिया चक्रवर्ती का शिकंजा और मजबूत होता जा रहा है। और दुबई से जुड़े कुछ उनके साथी पर शिकंजा कसता जा रहा है। एक एक्टर थी ममता कुलकर्णी भारत की को दशक पहले भारतीय सिनेमा में उनका एक नाम था लेकिन बहुत कम की फिल्में चली उन्होंने अपनी शादी ड्रग्स माफिया के साथ की जो इस समय दुबई में ही रह रहे हैं । मेरी व्यक्तिगत सोच है और मेरा अनुमान या अनुभव कह सकते हैं ममता कुलकर्णी और रिया चक्रवर्ती के संबंध में भी रिश्तो को जानने की जरूरत सीबीआई


करें हो सकता है यह जो ड्रग्स माफिया का धंधा दुबई से संचालन हो रहा हो,इसका संचालन दुबई से रिया चक्रवर्ती ऐसा हो सकता है कहीं इस केस में ममता कुलकर्णी रिया चक्रवर्ती के साथ हो ड्रग माफियाओं का दुबई से संचालन करने वाले बहुत बड़े डॉन दुबई में बैठे हुए हैं ,जिसमें एक पाकिस्तान में रहने वाला हिंदुस्तानी मोस्ट वांटेड आतंकवाद दाऊद इब्राहिम भी है। जिस का सबसे बड़ा कारोबार काफी देशों में फैला हुआ है उसे भारत हर प्रयास कर रही है उसको भारतमें लाने का क्योंकि वर्ष 1993 का बम धमाके का मुख्य अभियुक्त दाऊद इब्राहिम पाकिस्तान के कराची में बैठा गीदड़ की तरह छुपा बैठा है ।सुशांत सिंह राजपूत केस में उनके पिता के के सिंह ने पहली बार खुलकर रिया चक्रवर्ती पर हत्या का आरोप लगाया है। उन्होंने आजतक से कहा कि रिया उनके बेटे की हत्यारी है। वह लंबे वक्त से उसे जहर दे रही थी। उसे और उसके सहयोगियों को गिरफ्तार किया जाए और सजा मिले।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages