‘जन्म के एक घंटे के अंदर बच्चे को अवश्य दूध पिलाएं मां’ - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Saturday, August 1, 2020

‘जन्म के एक घंटे के अंदर बच्चे को अवश्य दूध पिलाएं मां’

वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राज्यपाल ने दिया संदेश

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। राज्यपाल की उपस्थिति में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से विश्व स्तन पान दिवस कार्यक्रम का शनिवार को शुभारंभ हुआ।
राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा कि अच्छे विषय को लेकर महिला एवं बाल कल्याण विभाग व स्वास्थ्य विभाग ने यह अभियान चलाया है। पूरे विश्व में एक सप्ताह तक स्तनपान दिवस के रूप में आयोजित किया जाएगा। मां के स्तनपान से बच्चों को भरपूर लाभ होता है। बच्चा पैदा होने के एक घंटे के अंदर बच्चे को अवश्य दूध पिलाए। मां और बच्चा दोनों को लाभ है। उन्होंने मां बनने वाली युवतियों से कहा है कि इसका विशेष रुप से ध्यान दें बच्चे को दो वर्ष तक कैसे रखना है। छोटी उम्र से ही अगर बच्चे का ध्यान देंगे तो उसकी शारीरिक व मानसिक क्षमता पर वृद्धि होगी। अब सरकार महिला सरकारी कर्मचारियों, अधिकारियों को भी छह माह की छुट्टी वेतन सहित देती
वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान अधिकारी।
है। जब पशु बच्चे देते हैं तो तुरंत दूध पिलाते हैं तो सीख लेना चाहिए। जन्म के बाद मां का दूध ही सबसे बड़ी दवाई है। बच्चों का विकास आठ वर्ष में सभी शारीरिक, मानसिक, सामाजिक हो जाता है। उन्होंने कहा कि इस व्यवस्था में सभी विभागों को दायित्व मिला है वह लगकर कार्य करें। इस मौके पर जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार तथा जिला कार्यक्रम अधिकारी मनोज कुमार को निर्देश दिए कि आशा, एएनएम, आंगनबाड़ियों को लगा कर अधिक से अधिक लोगों को जागरूक किया जाए। इसका माइक्रो प्लान तैयार कर जनपद में पोस्टर, बैनर के माध्यम से प्रचार प्रसार कराएं। एनआईसी में वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान अपर जिलाधिकारी जीपी सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ आरके गुप्ता, जिला कार्यक्रम अधिकारी मनोज कुमार, जिला सूचना विज्ञान अधिकारी मनोज कुमार यादव सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages