जलभराव से बदल गई बदौसा-फतेहगंज मार्ग की सूरत - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Sunday, August 9, 2020

जलभराव से बदल गई बदौसा-फतेहगंज मार्ग की सूरत

घुटनों तक पानी भर जाने से आवागमन में होती परेशानी 

बदौसा, के एस दुबे । गांव गलियों की बात मत करिए, यहां तो मुख्य मार्ग बदौसा फतेहगंज की जलभराव से सूरत ही बदल गई। घुटनों से ऊपर भरे पानी से आने जाने वाले सहित इनारे किनारे दुकानदारों भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। 

बदौसा से फतेहगंज मार्ग जर्जर होने के साथ जलभराव के कारण पन्द्रह किलोमीटर बदौसा से फतेहगंज का सफर डेढ़ घण्टे से ज्यादा समय मे करते है। रोड के अगल बगल मिट्टी पड़ी होने से तमाम बार दो पहिया चालक मिट्टी में फिसल कर घायल हो चुके है। कस्बे के हालात तो जलभराव होने के कारण बद से बदतर हो चुके है। व्यापारी महेश गुप्ता कहते है कि जल निकाशी की व्यवस्था ना होने के कारण 500 से 800 मीटर रोड पूरी तरह से घुटनों भरा रहता है । आने जाने में काफी दिक्कतें है। तरसूमा के जगदीश तिवारी का कहना है कि पतली सिंगल रोड उस पर ऊबड़ खाबण रोड उस पर ऊपर से पानी और कीचड़ से आने जाने वालों को भारी परेशानी के सर से गुजरना पड़ता है। बघेलावारी के सौरभ पटेल का कहना है कि मध्यप्रदेश को जोड़ने वाले मुख्य मार्ग में कई जगह जल भराव होता है, जहां से निकलना मुश्किल भरा सफर साबित होता है। फतेहगंज ग्राम प्रधान का कहना है कि बसपा शाशन काल मे बनी यह रोड अति दयनीय दशा में है। जर्जर व जलभराव होने के कारण अक्सर दुर्घटनाए होती है।

इस तरह बदौसा-फतेहगंज मार्ग में होता है जलभराव
कई बार शाशन प्रशासन को इस बदहाल रोड को लेकर लिखित व मौखिक रूप से अवगत कराया जा चुका है। लेकिन आश्वासनों पर बदहाली पर आंसू बहाती यह सड़क टिकी है। बदौसा के राहुल तिवारी, रत्नाकर सिंह, विनोद, राजू यादव सहित व्यापार मण्डल के अध्यक्ष मनीष वामरे ने मांग की है यह जल भराव की समस्या से मुक्ति दिलाई जाए। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages