निगरानी समिति की बैठक में सांसद ने कसे पेंच - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Monday, August 31, 2020

निगरानी समिति की बैठक में सांसद ने कसे पेंच

हाइवे पर काटे गए पेड़ की जगह नए पौधों का हो रोपण 

लापरवाही पर ईओ का एक दिन का वेतन रोक जवाब तलब के निर्देश 

बांदा, के एस दुबे । जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) की बैठक सांसद आरके सिंह पटेल की अध्यक्षता में सर्किट हाउस में संपन्न हुई। जिसमें राष्ट्रीय ग्रामीण अजीविका मिशन, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, स्वच्छ भारत मिशन, राष्ट्रीय ग्रामीय पेयजल योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, राष्ट्रीय कृषि विकास योजना आदि विकास कार्यों की समीक्षा की गई। कहा गया कि नेशनल हाइवे निर्माण के समय एनएच द्वारा काटे गए वृक्षों के स्थान पर नए पौधों का रोपण कराया जाए। स्वच्छ भारत मिशन अभियान में लापरवाही करने पर अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका, नगर पंचायत का एक दिन का वेतन रोकने और जवाब तलब करने के निर्देश सांसद ने दिए। इसके साथ ही केन नदी में 30 किमी परिधि में बैराज बनाए जाने का प्रस्ताव भी बैठक में रखा गया। 

सर्किट हाउस में निगरानी समिति की बैठक को संबोधित करते सांसद आरके सिंह पटेल

वन विभाग की समीक्षा करते हुए प्रभागीय वनाधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि नेशनल हाइवे निर्माण के समय एन0एच0 द्वारा काटे गये वृक्षों के स्थान पर नये वृक्षों का रोपण कराया जाए जिससे शुद्ध एवं स्वच्छ आक्सीजन प्राप्त हो सकेगी। जिला समन्वय उप्र कौशल विकास मिशन की समीक्षा करते हुए सांसद ने पूर्व की मीटिंग में किये गए निर्णयों को गम्भीरता से लेते हुए कहा कि सम्बन्धित के द्वारा लापरवाही बरती गयी है और इस मीटिंग में झूठ बोला गया कि प्लेसमेन्ट किये गए अभ्यर्थियों की सूची जन प्रतिनिधियों को प्रेषित कर दी गयी है जो कि यह बात असत्य एवं निराधार है। इसी को संज्ञान में लेते हुए जिलाधिकारी से अपेक्षा किया कि सम्बन्धित को कारण बताओ नोटिस जारी की जाए और प्लेसमेन्ट अभ्यर्थियों की सूची जन प्रतिनिधियों को उपलब्ध करायी जाए। इसके बाद जिला समाज कल्याण अधिकारी को निर्देश दिये कि राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम योजना अन्तर्गत जिन लाभार्थियों के खाते में पैसा अभी तक नही गया है ऐसे लोंगो की समस्या का समाधान प्राथमिकता से किया जाए। इसके बाद प्रधानमंत्री आवास योजना नगरीय के अन्तर्गत जिले स्तर पर एक कमेटी बनायी जाए और उस कमेटी में क्षेत्रीय जन प्रतिनिधियों को भी रखा जाए। उक्त निर्देश परियोजना अधिकारी जिला नगरीय विकास को दिये और स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत जिन सामुदायिक शौचालयों का निर्माण पूर्ण हो चुका है, उनका लोकार्पण जन प्रतिनिधियों के माध्यम से अभी तक क्यों नही कराया गया इस पर नाराजगी व्यक्त करते हुए अधिशासी अधिकारी नगर पालिका/नगर पंचायत अधिकारियों का एक दिन का वेतन रोकने के साथ कारण बताओ नोटिस जारी किया जाए। यह निर्देश जिलाधिकारी को दिये। इसके बाद स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण योजनान्तर्गत जिला पंचायत राज अधिकारी संजय यादव ने 760 सफाई कर्मियों की सूची जन प्रतिनिधियों को उपलब्ध कराये जाने पर संतोष व्यक्त किया एवं यह निर्देश दिये कि शादी वाले जोडों को शासन की मंशानुसार शौचालय उपलब्ध कराया जाए। सांसद आरके सिंह पटेल ने इस प्रकरण से जिलाधिकारी को अवगत कराया कि एक किसान महादेव पुत्र भागवत ग्राम पिण्डारण के निजी नलकूप उर्जीकरण कनेक्शन लेने के लिए विद्युत के कम्प्यूटर आपरेटर ने एक लाख 14 हजार 579 रूपये जमा कर लिए और उस किसान को कोई जमा पर्ची तक नही दी गई जो कि यह बहुत ही निन्दनीय अपराध है। जिलाधिकारी से कहा गया कि वह इस मामले को संज्ञान में लेकर उपरोक्त के खिलाफ कानूनी कार्यवाही कर उसे हटाया जाए ताकि किसानों का शोषण न हो सके। 

सांसद हमीरपुर पुष्पेन्द्र सिंह चन्देल ने जिला समाज कल्याण अधिकारी को निर्देश दिये कि मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजनान्तर्गत विवाहित किये जा रहे परिवारों में से ऐसे परिवारों को चिन्हित किया जाए कि जिन परिवारों के पूर्व से शौचालय उपलब्ध नही हैं तथा जो पात्र हैं उन्हें शौचालय दिये जाय। इसके बाद जल निगम 16 वीं शाखा की समीक्षा करते हुए कहा कि पूर्व में सांसद राज्यसभा ने अवगत कराया था कि सांडी में पाइप लाइन डालने के लिए तोडी गयी रोड को अभी तक क्यों नही बनाया गया, कारण बताया जाए तथा प्राथमिकता के साथ सड़क मरम्मत करायी जाए अन्यथा शासन को पत्राचार किया जायेगा। इसके बाद सांसद श्री पटेल, सांसद हमीरपुर पुष्पेन्द्र सिंह चन्देल, विधायक सदर प्रकाश द्विवेदी, विधायक बबेरू चन्द्रपाल कुशवाहा ने बैठक के दौरान 30 किमी परिधि के अन्तर्गत यह प्रस्तावित किया गया कि केन नदी में एक बैराज बनाया जाए जिससे नदी के किनारे वाले ग्रामों पर वाटर लेबिल बढेगा जिससे पेयजल की समस्या नही होगी। यह बुन्देलखण्ड बांदा के लिए वरदान साबित होगा। इसके अलावा अन्य मुद्दों पर भी दिशा निर्देश दिए गए। विधायक बबेरू चन्द्रपाल कुशवाहा नेे कृषि अधिकारी को यह निर्देश दिये कि बीमा कम्पनी के एजेन्टो का नाम, मोबाइल नंबर होर्डिंग्स के माध्यम से विकास खण्डों तथा तहसीलों मेें लगवाई जाए जिससे किसानों को योजनाओं का लाभ के विषय में जानकारी प्राप्त हो सके। जिलाधिकारी अमित सिंह बंसल ने बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस मीटिंग में लिए गए निर्णयों को प्राथमिकता के साथ कराया जायेगा। कार्यक्रम का संचालन मुख्य विकास अधिकारी हरिश्चन्द्र वर्मा ने किया। बैठक में अपर जिलाधिकारी वि0/रा0 संतोष बहादुर सिंह, उप जिलाधिकारी सदर, परियोजना निदेशक आरपी मिश्रा सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी एवं विभिन्न पार्टियों के जन प्रतिनिधिगण एवं सदस्य उपस्थित रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages