कर्म करें, अन्याय के प्रति संघर्ष में ईश्वर आपका साथ देगा.............. - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Sunday, August 23, 2020

कर्म करें, अन्याय के प्रति संघर्ष में ईश्वर आपका साथ देगा..............

देवेश प्रताप सिंह राठौर,

स्वाबलंबी, (वरिष्ठ पत्रकार)

............. हम सब ने जन्म लिया है इस पृथ्वी पर tvऔर जन्म देने वाली हमारी मां हमारे पिता दोनों ही महत्वपूर्ण होते हैं। आज हम उस हकीकत में जाना चाहे जिस तरह से मां-बाप बच्चों को पढ़ा लिखा के बड़ा करते हैं कि हमारा बुढ़ापे का सहारा बनेगा, अधिकांश लोग अपने मां-बाप को भूल कर पत्नी और ससुराल वालों के अधीनस्थ गुलाम हो जाते हैं और वह लोग अपने मां बाप को भूल जाते हैं।जीवन में अगर आपको खूब धन पैसा यश कीर्ति सब प्राप्त हो पर मां-बाप का ध्यान नहीं दिया तो मंदिर बनवाओ , चाहे गिरजा घर वनबाओ, चाहे मस्जिद बनवाओ, चाय को गुरु द्वारा बनवाओ भाई यह दोनों सब बेकार है। क्योंकि आपने अपने धर्म का पालन नहीं किया क्योंकि आपने

अपने मां-बाप को सम्मान नहीं दिया जो एक बेटे सेचाहते हूं। एक दिन  मिल के बिछड़ जाएंगे, ...एक दिन मिलकर बिछड़ जायेंगे,.....कैसी ये दुनिया की रीत रे, रीत रे....   अपने पराए हो जाए एक दिन किसने बनाई है रीत रे. रीत रे............. ये रिश्ते नाते जो दिल से जुड़े ,.... इक पल में जमाना बदलता है क्यों, बदलता है क्यों......... प्यार बानके जो सांसो  में हर पल रहे..... वन के आंसू वो आंखों से ढलता है क्यू .... ढलता है क्यो.....    सपने सभरते. सपने सवर.. के बिखर जाएं एक दिन..      कैसी ये दुनिया की रीत रे, रीत रे।  ...... ..... .... ..   हर व्यक्ति के जीवन में उतार-चढ़ाव आते हैं परंतु दोनों उतार-चढ़ाव में हमें कई अवसर मिलते हैं अच्छा बनने के लिए परंतु वह अवसेरहम खो देते हैं  । आज हर वक्त सबसे ज्यादा कंपटीशन में लगा हुआ है। हम इसको कैसे पीछे करें कैसे इसको नीचा दिखाए अहंकार में अपने पद के अपने धन के, अपने वर्चस्व के , वल पर वह गलत कार्य करके धन कमाकर इतना  रख लेता है कि शासन-प्रशासन भी उसी की सुनता है, क्योंकि आज वही सबसे बड़ा नेता है जो सबसे ज्यादा अपराधी हो, कुकर्मी, अत्याचारी हो , अपराधी हो, भू माफिया हो  या खनन माफिया हो यह आजकल की नेताओं की डिग्री है। अगर यह सब आपके पास नहीं तो आप नेता नहीं है।अगर यह सब डिग्री नहीं है भूल चूक से आप कहीं नेता बन भी गए तो आपको सम्मान नहीं मिलेगा जो इन लोगों को मिलेगा और आप टिकट भी नहीं मिलेगा, क्योंकि वह टिकट ले आएंगे उनके पास सारे खुराफात है, पैसे की कमी नहीं है टिकट ले आएंगे आप श्रम करेंगे, ईमानदार है ईमानदारी में हमेशा जीवन काट देते हैं पैसा कमाया नहीं आम आदमी की तरह साधारण जीवन व्यतीत कर रहे हैं।हकीकत में आप उसके हकदार होते हैं, लेकिन नहीं मिलता क्यों क्योंकि एक नेता होने की डिग्री आपके पास नहीं है जो उपरोक्त लिख कर  दर्शाए है।.............. आज बहुत बड़े ब्रांड के मालिक बाबा रामदेव जी जब दिल्ली में सभा को संबोधित कर रहे थे कुछ वर्ष पहले जब कांग्रेस की सरकार थी केंद्र में उसमें कांग्रेश की पुलिस थी  पुलिस ने क्या व्यवहार किया स्वयं बाबा रामदेव जी ने अपने शब्दों में कहा अगर मैं उस समय महिला के कुर्ता सलवार पहनकर ना भागता तो मैं आज आपके समक्ष जिंदा नहीं होता, बहुत लोग हंसे कि बाबा रामदेव कायर हैं बाबा रामदेव  औरतों के कपड़े पहन के अपनी जान बचाई उन मूर्खों से पूछा जाए कोई भी व्यक्ति के सामने अगर मौत खड़ी होती है ,तो यह दो ही प्रश्न बन सकते हैं कि अपने को जनता सम्हू से कैसे बचाए, और जब नहीं बचते देखेंगे तो ईश्वर के ऊपर छोड़ दे या मरेंगे या मारेंगे यह धारणा आदमी की उत्साह बन जाती है, क्योंकि चारों तरफ से मौत दिखाई दे रही है, बचाव के तरीके खोजता है वही बाबा रामदेव ने किया अपनी जान बचाई और आज हम पतंजलि का सारा सामान इस्तेमाल करते हैं हमें गर्व होता है कि हम स्वदेशी अपनाते हैं। भारत को भारत के साथ पूरे विश्व को बाबा रामदेव ने योग के क्षेत्र में जो सबसे बड़ा योगदान दिया और योग दिवस के रूप में 21 मई को योग दिवस मनाया जाता है जो पूरे विश्व में एक  दिन तारीख महीना निश्चित कर दिया है यह बाबा रामदेव की लगन और मेहनत का परिणाम है। उन्होंने पूरे विश्व में योग के लाभ बताएं,आज कोरोनावायरस केस संक्रमित लोगों के लिए वही लोग उनका जीवन का अंग बन गया है योग के कारण हजारों हजारों की संख्या में लोग योग के द्वारा ठीक हो रहे हैं ।जो  महापुरुष  बाबा रामदेव जी ने किया जिन्होंने लोगों को पूरे विश्व में एक योग के लिए योग दिवस के रूप में दर्जा दिलवाया बाबा रामदेव जी ने ,पतंजलि सप्रोडक्ट स्वदेशी को हर देशवासी अपनाया ।अव समय आ गया है देश के हर नागरिक को अपने देश को मजबूत बनाने के लिए स्वदेशी अपनाएं,लोगों को इस्तेमाल करना चाहिए स्वदेश निर्मित सामान इस्तेमाल करें, बिल्कुल मेड इन चाइना का निकाल कर फेंक दे ,बाबा रामदेव जी अगर उस समय जिस स्थिति में थे अपनी वेशभूषा ना बदलते तो क्या होता वह स्थित को बाबा रामदेव से बेहतर कोई नहीं समझ सकता था ।क्योंकि उस दिन जिस तरह कि दिल्ली पुलिस ने उनके साथ व्यवहार किया वह सब योजना बनाकर पूर्ण रूप से लग रहा था कि यह बाबा रामदेव जी के लिए कठिन समस्या ला सकता ।बाबा रामदेव जी अपने दिमागसे  बुद्धिमत्ता से अपने को बचाया जो लोग आज उपहास उड़ाते हैं कि बाबा ने महिलाओं के कपड़े पहन कर भागे हैं ।उनको कहना चाहता हूं कभी तुम्हारी कनपटी में रिवाल्वर गोली से भरी कोई लगा दे,  तो आपके क्या हाल होगा उस समय आप यह कहोगे कि मुझे गोली से मार दो नहीं आप अपनी जान बचाने के लिए सब प्रयत्न करोगे सिट्टी पिट्टी गुल हो जाएगी । अगर बाबा रामदेव को देश की बहुत जरूरत है बाबा रामदेव की तरह बहुत से और भी संस्थान है जो स्वदेशी सामानों को अच्छा बनाती हैं आप सब लोग स्वदेशी अपनाना सीखें , भारत को मजबूत बनाए  क्योंकि नेताओं की डिग्री जो आज है उस डिग्री से भ्रष्टाचारी दुराचारी अत्याचारी बलात्कारी भू माफिया खनन माफिया..... आज बीजेपी सरकार में श्री योगी जी ने बहुत कुछ खनन माफिया भू माफियाओं पर अंकुश लगा दिया है। कह सकते हैं भू माफिया खनन माफिया गुंडागर्दी अन्य चीजें इधर योगी की सरकार में सब खत्म हो गए हैं ।लेकिन 65 साल की कुर्तियों को 5 साल में नहीं तोड़ा जा सकता इसके लिए भी समय प्रदेश की जनता योगी जी को और कई बार मुख्यमंत्री बनाए तो भ्रष्टाचार यहां से निश्चित दूर हो जाएगी यह मेरा पूर्ण विश्वास है। पैसे आज भ्रष्टाचारी हर क्षेत्र में उत्तर प्रदेश में कम है, कम हुए हैं।कहीं आएगी दूसरी सरकारें तो वह तो इसी पर हमेशा टिकी रहती हैं फिर भ्रष्टाचारी शुरू हो जाए इसलिए योगी की सरकार को अभी 2 बार मुख्यमंत्री और बनाने की जरूरत है, पोर्न की सरकारों का रवैया था जितना लूट पाओ तो लूट लो यह धारणा बना के सरकारी 70 साल से लुटतीचली आ रही है। देश को गर्त में डाल दिया है। भ्रष्टाचारी जैसे गंभीर बीज  जिसकी जड़ें पाताल तक चली गई है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages