साप्ताहिक लाक डाउन के पहले दिन चला लुकाछिपी का दौर - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Saturday, August 1, 2020

साप्ताहिक लाक डाउन के पहले दिन चला लुकाछिपी का दौर

बाहर से शटर बंद कर अंदर रक्षाबंधन पर्व के लिए बनाई गई मिठाई 
त्योहारी मौसम में लाक डाउन के चलते फजीहत से जूझे लोग 

बांदा, के एस दुबे । यूपी सरकार द्वारा 55 घंटे का घोषित लाक डाउन अबकी बार लोगों को तकलीफ देता रहा। त्योहार के मद्देनजर दुकानें बंद करने और खोलने में शनिवार को जमकर लुकाछिपी का दौर चला। मिठाई की दुकानों समेत बाजार में अन्य दुकानें भी खुलती और बंद होती रहीं। मिठाई की दुकानों में दुकान का शटर बंद होने के बावजूद अंदर मिठाई बनाने का काम चलता रहा। शहर की विभिन्न दुकानों के हालात भी कमोवेश ऐसे ही रहे। शटर जरूर बंद रही लेकिन सामान की बिक्री का सिलसिला जारी रहा। 
कुछ समय के लिए सड़कों में दिखा सन्नाटा
कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए यूपी सरकार की ओर से प्रति सप्ताह 55 घंटे का लाक डाउन घोषित किया गया है। शुक्रवार रात 10 बजे से सोमवार भोर पांच बजे तक लाक डाउन लागू रहता है। चूंकि शनिवार को बकरीद और बुधवार को रक्षाबंधन होने के कारण लोगों ने काफी हद तक शुक्रवार को ही खरीददारी कर ली थी, लेकिन शनिवार को भी खरीददारी का दौर चला। बाजार में दुकानदारों ने शटर तो बाहर से बंद रखी लेकिन अंदर ही अंदर कारोबार चलता रहा। लोगों ने एक के बाद एक दुकान में पहुंचकर चुपचाप खरीददारी की। शहर की नामचीन मिठाई की दुकानों के अलावा अन्य दुकानों में भी रक्षाबंधन पर्व के लिए मिठाई बनाने का सिलसिला जारी रहा। इस पूरे सिलसिले में पुलिस और दुकानदारों व खरीददारों के बीच लुकाछिपी का दौर चलता रहा। खाकी वर्दीधारियों की गाड़ी दुकान की तरफ आता हुआ देखकर दुकानदारों ने अंदर से ही शटर बंद कर ली और खाकी के जाते ही शटर का एक हिस्सा खोलकर काम किया गया। गौरतलब हो कि व्यापार मंडल के पदाधिकारियों ने ज्ञापन देकर जिलाधिकारी से मांग की थी कि अबकी बार साप्ताहिक लाक डाउन में उन्हें मिठाई और राखी की दुकानें खोलने की इजाजत दी जाए, लेकिन प्रशासन इस बात के लिए तैयार नहीं हुआ। हालांकि प्रशासन की इस कारगुजारी से व्यापारियों में रोष नजर आया। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages