रक्षाबंधन, राखी व मिठाई की हुयी खरीददारी - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Saturday, August 1, 2020

रक्षाबंधन, राखी व मिठाई की हुयी खरीददारी

फतेहपुर, शमशाद खान । कोरोना संक्रमण काल के दौरान भारत देश में मनाये जाने वाले सभी त्योहार फीके-फीके नजर आ रहे हैं लेकिन त्योहारों के इस देश में त्योहार न मनाये जायें ऐसा भी नही हो सकता। शनिवार को जहां बकरीद का पर्व लाकडाउन के बीच मनाया गया वहीं भाई-बहन के प्यार का प्रतीक रक्षाबंधन तीन अगस्त को होने के चलते लाकडाउन में मिष्ठान व राखी की दुकानों को मिली छूट के चलते लोगों ने इसकी खरीददारी की। बाजार में सजी राखी व मिठाईयों की दुकानों पर ग्राहक दिखाई दिये। इस बार राखी की विभिन्न वैरायटी भी बाजार में उपलब्ध नहीं है।
बाजार में राखी की खरीददारी करतीं युवतियां।
हिन्दू रीति रिवाजों में रक्षाबंधन का पर्व खास अहमियत रखता है। इस पर्व पर बहनें भाइयों के कलाई में राखी का धागा बांधकर अपनी रक्षा का वचन लेती हैं। बहनें जहां अपने-अपने भाइयों को राखी बांधने के लिए ससुराल से मायके आ रही है। वहीं धागे के इस अटूट बंधन में बंधने के लिए भाई अपनी बहनों का बेसब्री से इन्तेजार कर रहे हैं। तीन अगस्त को सुबह से ही राखी बांधने और बंधवाने का सिलसिला शुरू हो जाएगा। जिसकी तैयारियों को बहने अन्तिम रूप दे रही हैं। शहर के देवीगंज, बाकरगंज, लाठी मोहाल, आर्य समाज सहित कई अन्य स्थानों पर राखी की दुकाने सजी हुयी हैं। राखी की सजी दुकानों को देखकर ऐसा प्रतीत होता है कि भाई-बहन का अटूट रिश्ते में कितनी ताकत होती है। राखी के साथ-साथ शहर के विभिन्न मिष्ठान प्रतिष्ठानों में भी ग्राहक दिखाई दिये। कोरोना संक्रमण की वजह से पर्व में उतना उत्साह नजर नही आ रहा है लेकिन भाई-बहन के प्यार का प्रतीक रक्षाबंधन का पर्व सादगी के बीच जिले में मनाया जायेगा। जिला एवं पुलिस प्रशासन द्वारा इसकी तैयारियां भी की गयी हैं लोगों से आहवान किया जा रहा है कि अपने-अपने घरों पर रहकर ही पर्व को मनायें। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages