नोकरी लगवाने के नाम पर ठगी करने बाले चार शातिरों को पुलिस ने पकड़ा - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, August 31, 2020

नोकरी लगवाने के नाम पर ठगी करने बाले चार शातिरों को पुलिस ने पकड़ा

मुखबिर की सूचना पर एसओजी एवं कोतवाली पुलिस को मिली सफलता

उरई, अजय मिश्रा  । गरीब एवं भोले भाले युवक युवतियों की नोकरी पर रखकर काल सेंटर के माध्यम से नोकरी लगवाने के नाम पर ठगी करने बाले चार शातिर लोगो को पुलिस ने पकड़ लिया। जो एक कालसेंटर संचालित कर नोकरी लगवाने के नाम पर ठगी कर रहे थे। जिनके पास से मोबाइल, लैपटॉप, एटीएम, पासबुक एवं कई सम्बंधित दस्तावेज मिले है। उक्त घटना का खुलासा करते हुए पुलिस अधीक्षक डॉ यशबीर सिंह ने बताया कि शहर कोतवाली के अंतर्गत गरीब युवक-युवतियों को नौकरी पर रखकर कालसेंटर के माध्यम से नोकरी लगवाने के नाम पर ठगी किये जाने की सूचना प्राप्त हो रही थी। जिसकी जानकारी मुखबिर द्वारा पुलिस को दी गयी जिस पर कोतवाली पुलिस के साथ एसओजी एवं सर्विलांस टीम को लगाया गया। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक जेपी पाल ने एसओजी एवं सर्विलांस के सहयोग से झांसी रोड स्वर्गधाम के पास नारायण मार्बल हाउस के सामने स्थित


शिवदयाल अहिरवार पुत्र स्वर्गीय भरोसे अहिरवार निवासी मोहल्ला रामनगर के मकान से फर्जी कालसेंटर संचालित करने बालो को पकड़ लिया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि बागपत निबासी मोनू कुमार इस मकान को किराए पर लेकर अन्य तीन लोगो के साथ मिलकर काल सेंटर संचालित कर रहा था। बताया कि यह लोग अलग अलग कंपनियों से डिग्रीधारक युवक-युवतियों का डाटा एकत्रित करके गरीब एवं भोले भाले परिवार के लड़के लड़कियों को नौकरी पर रखकर विभिन्न प्रांतों के मोबाइल व् ईमेल के माध्यम से संपर्क कर नौकरी लगवाने के नाम पर फर्जी दस्तावेज तैयार कर रोजगार उपलब्ध कराने के नाम पर पैसा छल करके ठगी करते रहे थे। जिन्हें पुलिस ने पकड़ लिया पुलिस के अनुसार इनके नाम अनिल कुशवाहा एवं शिवम् शुक्ला निबासीगढ़ बजीदा थाना कोतवाली  एवं राम किशोर उर्फ़ अमन निबासी उमरारखेरा थाना कोतवाली उरई तथा मोनू कुमार निबासी ग्राम अहमद पुर जिला बागपत बताये गए है। पुलिस ने इनके पास से 10 एटीएम कार्ड, 3 बैंक पासबुक, एक उपस्थिति रजिस्टर, 2 ग्राहक मोबाइल रजिस्टर, 3 मोबाइल, 2 कीपेड़ मोबाइल, सहित कई दस्तावेज एवं सिमकार्ड बरामद किये है। जिनके खिलाफ बैधानिक कार्यवाही की जा रही है। गिरफ्तार करने बाली टीम में कोतवाली निरीक्षक जेपी पाल, एसओजी प्रभारी प्रवीण कुमार, एसआई अजय कुमार सिंह, चन्दन पाण्डेय, प्रदीप कुमार, हरीराम सिंह, राम प्रकाश यादव, कांस्टेबिल सत्येंद्र सिंह, शैलेंद्र चौहान, आशुतोष सिंह, संध्या चौहान, भूपेंद्र सिंह, अश्वनी, निरंजन सिंह, विनय प्रताप सिंह, पुनीत कुमार, जगदीश, कर्मवीर सिंह, गौरव बाजपेई, आलोक यादव, सुशांत मिश्रा साथ रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages