झांसी में कोरोना मरीजों की संख्या निरंतर बढ़ोतरी होती हुई................ - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Advt.

Saturday, July 18, 2020

झांसी में कोरोना मरीजों की संख्या निरंतर बढ़ोतरी होती हुई................

देवेश प्रताप सिंह राठौर 
(वरिष्ठ पत्रकार)

............. उत्तर प्रदेश का एक शहर जिसे बुंदेलखंड की जनपद के रूप में माना जाता है उसका नाम है झांसी झांसी में अभी तक 1026 कोरोना मरीज संक्रमित हुए थे जिसमें आज समाचार लिखने तक 671 कोरोना वायरस पॉजिटिव मरीज अस्पताल में हैं। झांसी शहर के कुछ इलाके को जिलाधिकारी के निर्देश पर शक्ति के साथ पालन करने के लिए दिशा निर्देश जारी किए हैं जिस स्थान पर मोहल्ले में अधिक केस निकले हैं वहां पर लॉकडाउन की स्थिति को बनाए रखा गया है। लेकिन जिस तरह से जांच यह सैंपल लिए जा रहे हैं उसकी अपेक्षा इस समय बुंदेलखंड के झांसी में संख्याओं की वृद्धि कोरोना वायरस की संक्रमित लोग अधिक पाए जा रहे हैं। मैंने जिला अधिकारी महोदय के फोन पर बात की उनके असिस्टेंट ने फोन अटेंड किया और मैंने यही निवेदन किया कोरोना वायरस बहुत तेजी से झांसी में बढ़ रहा है कुछ दुकानों में शहरों में लोगों में पब्लिक में इसका पालन सोशल डिस्टेंस नहीं हो रही है इस पर सख्त से सख्त सरकार को थोड़ा शक्ति करने की जरूरत है क्योंकि लॉकडाउन में कुछ तत्व जो करुणा वायरस को मजाक बना रखा है इनके कारण पूरा सिस्टम परेशान होता है किसी समस्या का लॉकडाउन होना हित में नहीं है परंतु नियम दिशा निर्देश दिए गए हैं उसको हर नागरिक को सरकार की दी गई गाइडलाइन का पूर्ण
पालन किया जाना चाहिए सरकार ने कहा है कोई मोटरसाइकिल में किसी दूसरे व्यक्ति को साथ में बैठा कर नहीं ले जाएगा लेकिन मैं देखता हूं तीन तीन मोटरसाइकिल में बैठे लोग बिना मासक के  आपको सड़कों में घूमते मिलेंगे ऐसे लोगों को सरकार सख्त कानून बनाया और उनके साथ कानूनी कार्यवाही करें जिससे लोगों को एहसास हो कि हमें नियम का पालन करना है नहीं करेंगे तो हमारे साथ नुकसान हमारा होगा इस तरह की भावना जब तक जनता के प्रति नहीं जागेगी तब तक कोरोना वायरस के की संख्या में वृद्धि होती रहेगी क्योंकि हम आपको सबको सुरक्षा रखे कार्य करना चाहिए। परंतु यहां सबको इतनी आजादी है क्योंकि नियम का पालन करना बहुत से लोगों के जेहन में नहीं रहा है ।क्योंकि ऐसी सरकारें रही पूर्व में जो नियम तोड़ना शिखा आ गई है वह आज भी वही करते है वही आदत पड़ी है उसे सरकार को शक्ति के साथ कार्य करने की जरूरत है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages