टीकाकरण: अब निमोनिया की वैक्सीन भी होगी शामिल - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Advt.

Friday, July 17, 2020

टीकाकरण: अब निमोनिया की वैक्सीन भी होगी शामिल

निमोनिया से होगा मासूमों का बचाव 
जनपद समेत 56 जिलों में 8 अगस्त को पीसीवी का टीका होगा लांच 
 
बांदा, के एस दुबे । जनपद के नवजातों को अब निमोनिया से होने वाले जान के खतरे से नहीं जूझना पड़ेगा। बच्चों को निमोनिया से बचाने के लिए जनपद में यह टीका मुफ्त लगाया जाएगा। न्यूमोकोकल बैक्टीरिया से होने वाले निमोनिया और अन्य बीमारियों से बचाव के लिए पूरी तरह सुरक्षित व असरदार इस टीके को जनपद में 8 अगस्त को लांच किया जाएगा। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग का प्रशिक्षण भी शुरू हो गया है।
इसी संबंध में एनआईसी-बांदा में 16 और 17 जुलाई को पीसीवी वैक्सीन पर दो दिवसीय वर्चुअल कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसमें राज्य स्तरीय प्रशिक्षकों, यूनिसेफ, यूएनडीपी एवं विश्व स्वास्थ्य संगठन के विशेषज्ञों द्वारा टीके से सम्बंधित विशेष जानकारी व प्रशिक्षण प्रदान किया गया। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. आरएन प्रसाद ने बताया कि देश में 5 वर्ष तक की उम्र के लाखों बच्चे निमोनिया की चपेट में आकर दम तोड़ देते हैं। इसलिए सरकार के नियमित टीकाकरण कार्यक्रम में अब न्यूमोकोकल कन्जुगेट वैक्सीन (पीसीवी) को भी शामिल किया जा रहा है। यह टीका बच्चों को निमोनिया, डायरिया, मेननजाइटिस तथा सेप्सिस जैसी गंभीर बिमारियों से बचाएगा। 8 अगस्त को जनपद में इसका विधिवत उद्घाटन होगा जिसमें बच्चों को पीसीवी वैक्सीन की पहली डोज दी जाएगी। जन्म से एक वर्ष की उम्र तक बच्चों को इस टीके के तीन डोज दिए जाने हैं। पहला टीका जन्म के छह सप्ताह पूरे होने पर लगता है और दूसरा टीका 14 सप्ताह पर लगता है। नौ महीने पर इसका बूस्टर डोज लगता है। इस टीके के बाद निमोनिया से होने वाली बाल मृत्यु में निश्चित तौर पर कमी आएगी। 
कार्यशाला में मौजूद चिकित्सक
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने बताया कि प्रदेश के 19 जिलों में नियमित टीकाकरण कार्यक्रम के तहत पीसीवी वैक्सीन पहले से दी जा रही है जबकि बांदा सहित शेष 56 जिलों में 8 अगस्त को यह वैक्सीन लांच होगी। प्रशिक्षण में जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. आरएन प्रसाद, आरआई एआरओ राधा शर्मा, वैक्सीन कोल्ड चेन मैनेजर (वीसीसीएम) डा. अंजना पटेल, विश्व स्वास्थ्य संगठन के सर्विलांस मेडिकल आफिसर डा. संतोष गुप्ता, यूनिसेफ के मंडलीय समन्वयक हरेन्द्र पवार व जिला मोबिलाइजेशन समन्वयक फुजैल ए सिद्दिकी आदि शामिल रहे। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages