अतिथियों ने मेधावी प्रतिभाओं को शील्ड देकर किया सम्मानित - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Advt.

Tuesday, July 21, 2020

अतिथियों ने मेधावी प्रतिभाओं को शील्ड देकर किया सम्मानित

जालौन (उरई), अजय मिश्रा । सही दिशा का ज्ञान अध्यापक और माता-पिता देते हैं। माता-पिता और अध्यापक से बढ़कर हितकारी कोई नहीं हो सकता। इसलिए उनसे किसी गलती को मत छुपाओ। सफलता प्राप्त करने पर इनको न भूलें। बल्कि हर जबह इनका सम्मान करें। यह बात स्वामी विवेकानंद इंटर काॅलेज में मेधावी छात्र अलंकरण समारोह में मुख्य अतिथि पालिकाध्यक्ष गिरीश कुमार गुप्ता ने कही। इस दौरान हाईस्कूल व इंटरमीडिएट के मेधावी छात्रों को शील्ड देकर सम्मानित किया गया। 
स्वामी विवेकानंद इंटर काॅलेज में हाईस्कूल व इंटरमीडिएट के मेधावी छात्रों का सम्मान समारोह पीयूष विवेक महंत की अध्यक्षता एवं पालिकाध्यक्ष गिरीश कुमार गुप्ता के मुख्य आतिथ्य में संपन्न हुआ। कार्यक्रम की शुरूआत सोशल डिस्टेंस के साथ मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्ज्वलन के साथ हुई। इस दौरान डाॅ. नितिन मित्तल ने कहा कि आठवीं से लेकर ग्रेजुएशन तक की आयु किशोरावस्था मानी जाती है और इस अवस्था में शरीर में परिवर्तन व हार्मोंस में बदलाव तेज होता है। रिटायर्ड बैंक प्रबंधक शशिकांत द्विवेदी ने कहा कि हर सफलता में और अच्छी सफलता प्राप्त करने की गुंजाइश छिपी होती है। जो सफलता मिली है, उसे संजो कर रखें लेकिन इसमें और अच्छा कर गुजरने की गुंजाइश तलाशनी चाहिए। मुख्य अतिथि गिरीश कुमार गुप्ता ने कहा कि सही दिशा का ज्ञान अध्यापक और माता-पिता देते हैं। माता-पिता और अध्यापक से बढ़कर हितकारी कोई नहीं हो सकता।
प्रतिभावान छात्र को सम्मानित करते अतिथि।
अध्यक्षता करते हुए पीयूष विवेक महंत ने कहा कि माता पिता और गुरू का हमेशा सम्मान करना चाहिए। जिसे सफलता अपने परिश्रम से मिली है, उसके लिए खुशी की बात होनी चाहिए लेकिन कभी किन्हीं कारणों से असफलता मिलती है तो हिम्मत नहीं हारनी चाहिए। ध्यान रहे सफलता मिलने पर अपने अंदर अहंकार न पनपने दें। आनंदी बाई हर्षे बालिका इंटर इंटर काॅलेज की प्रधानाचार्या सुनीता शर्मा ने मेधावियों के परिश्रम की सराहना करते हुए कहा कि युवाओं के लिए कुछ भी असंभव नहीं है। वे असंभव को संभव बनाने में माहिर हैं। जीवन में इसी तरह कठिन परिश्रम करते रहें और असफलताएं आने पर कभी निराश न हों। प्रधानाचार्य मोहन तिवारी ने कहा कि मेधावियों को जो सफलता मिली है उसके लिए उन्हें बधाई। अंत में हाईस्कूल व इंटर मीडिएट के टाॅपटेन छात्रों को शील्ड देकर उनका सम्मान किया गया। इस मौके पर प्रबंधक अतुल हर्षे, संध्या हर्षे, शशिकंात द्विवेदी, सतीश सिंह सेंगर, प्रधानाचार्य मोहन तिवारी समेत मेधावी छात्र व उनके अभिभावक मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages