Latest News

लॉकडाउन कानपुर:- बस न चलने पर श्रमिकों का शराब पर फूटा गुस्सा

भिंड से पैदल चलकर झकरकटी बस अड्डे पहुंचे बिहार के मजदूरों ने जमकर विरोध जताया। मजदूरों का कहना था कि सरकार ने अपना खजाना भरने को शराब, भांग के ठेके खोल दिए हैं। आमजनता को घर पहुंचाने को रेल और बस बंद कर रखी है।
आमजा भारत सवांददाता:- भिंड की एक फैक्टरी में काम करने वाले लगभग सौ मजदूर किसी तरह चलकर गुरुवार को झकरकटी बस अड्डा पहुंचे। पता चला कि यहां से श्रमिकों को ले जाकर कोई बस बिहार सीमा पर नहीं जाएगी। इसके बाद सभी मजदूर झकरकटी बस के गेट पर गए। पुरनिया, बिहार निवासी रामप्रसाद, गयाचरन, शंकरलाल और जिया देवी ने आरोप लगाया कि एक ओर सरकार शराब और भांग के ठेके खोल दिए हैं। सुबह से लोग शराब लेने पहुंच जाते हैं। भिंड से दस दिन बाद कानपुर आ सका। खाने तक का इंतजाम नहीं बचा है। इसके बावजूद घरों को जाने का कोई साधन नहीं मिल रहा है। भिंड में चलते समय बताया गया था कि अब आवाजाही के साधन शुरू हो चुके हैं।

No comments