Latest News

पानी से ही सेनिटाइज कर दिया क्वारेन्टीन सेंटर

बिजनौर, संजय सक्सेना - किरतपुर नगर पालिका ने लेखपाल प्रशिक्षण केंद्र स्वाहेड़ी के क्वारेन्टीन सेंटर को बिना सैनिटाइजर के ही सेनिटाइज कर दिया। सेंटर को पानी से धुलवाया गया। असलियत का पता चलने पर हड़कंप मच गया। जिला प्रशासन ने गांव स्वाहेड़ी में लेखपाल प्रशिक्षण केंद्र को क्वारेन्टीन सेंटर बना कर कोरोना संदिग्ध 201 लोगों को रखा था। जांच में इनमें से दो कोरोना संक्रमित पाए गए, जिन्हें उपचार के लिए मेरठ भेजा गया। अन्य की रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद उन्हें घर भेज दिया गया। सेंटर खाली होने पर सेनिटाइजेशन के लिये किरतपुर
नगर पालिका से टैंकर मंगाया गया। टैंकर आने पर छिड़काव शुरू कर दिया गया। तरल पदार्थ से दवा की गंध न आने पर टैंकर का ढक्कन खोल कर देखा गया। पता चला कि सिर्फ पानी भरा था। इस पर हड़कंप मच गया। जानकारी किरतपुर पालिका प्रशासन को दी गई। इसके बाद सेनिटाइजर भेज कर सेंटर को सेनिटाइज किया गया। वहीं पानी से सेंटर को धोने वाले नगर पंचायत मंडावर के कर्मचारी को क्वारेन्टीन किया गया। इधर मामले की शिकायत जिलाधिकारी से करते हुए किरतपुर  नगर पालिका कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई। नगर पंचायत मंडावर की अधिशासी अधिकारी  गार्गी ने बताया कि सेंटर में काम करने वाले कर्मचारी को क्वारेन्टीन कर दिया गया है। जरूरत पड़ने पर अन्य कर्मचारी भी क्वारेन्टीन कराए जा सकते हैं। 

ईओ किरतपुर ने भूल बताया
नगर पालिका किरतपुर के ईओ हरिलाल पटेल के अनुसार नगर पालिका परिसर में दो टैंकर खड़े थे। इनमें से  एक पानी और दूसरा  सेनिटाइजर था। एक अधिकारी का फोन आने पर सेनिटाइजर वाले टैंकर को एक अन्य केंद्र पर भेज दिया गया। स्वाहेड़ी से डिमांड आने पर भूलवश एक कर्मचारी पानी का टैंकर ले गया।

No comments