Latest News

जब ईदगाहें-मस्जिदें बन्द कैसी ईद की खुशी, ग़रीबों को खाना खिलाकर मनाओ ईद - हयात ज़फर हाशमी

एमएमए जौहर फैन्स एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष हयात ज़फर हाशमी ने 59 वें दिन इंसानियत के किचन में ग़रीबों के लिए खाना बनाते समय पदाधिकारियों से कहा कि जब हमारी ईदगाहें बन्द हैं, मस्जिदें बन्द हैं, हम तरावीह से महरुम रह गये, 
कानपुर सवांददाता अब्दुल निसार:-  प्रतिदिन मजदूरों के दूर्घटना में मरने व भूख से आत्महत्या करने की खबर आ रही है मज़दूरों की लाशों पर हम ईद नही मना सकते इस लिए हम सबको चाहिये कि इस ईद की खुशी को गरीबों, असहायों, बेवा, यतीमों को खाना खिलाकर मनाएं।
अल्लाह हमारी इस ईद की कुर्बानी के बदले हमारी जिन्दगी में हर दिन ईद का दिन कर देगा।
इंसानियत के किचन में हयात ज़फर हाशमी, हाफिज़ मोहम्मद फैसल जाफरी, अज़ीज़ अहमद चिश्ती, हामिद खान, सैफी अन्सारी, मोहम्मद राहिल, मोहम्मद फैसल, एहसान अहमद निजामी, एहतेशाम बरकाती, मोहम्मद इलियास गोपी, मोहम्मद ईशान, सैय्यद सुहेल, मोहम्मद शारिक मंत्री, अरसालान अहमद, नदीम सिद्दीकी, शहनवाज अन्सारी आदि थे

1 comment: