Latest News

चिलचिलाती धूप के बीच थर्मल स्क्रीनिंग करा रहे प्रवासी

सदर अस्पताल के सामने एक मैरिज हाल में चल रहा स्क्रीनिंग कार्य 
व्यवस्थाएं न होने से जमीन पर बैठने के लिए मजबूर 
 
फतेहपुर, शमशाद खान । कोविड-19 वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए जिले में बड़ी संख्या में आ रहे प्रवासी मजदूरी की थर्मल स्क्रीनिंग का कार्य एक मैरिज हाल में अव्यवस्थाओं के बीच चल रहा है। चिलचिलाती धूप में घण्टों प्रवासी मजदूर लाइन लगाकर अपनी बारी का इंतजार करते हैं। धूप की तपिश के बीच प्यास से भी बेहाल हो जाते हैं। उधर व्यवस्थाएं न होने से प्रवासी मजदूरों का परिवार गंदी जमीन पर ही बैठने के लिए विवश है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से व्यवस्थाएं न किये जाने से प्रवासी लोगों के बीच नाराजगी भी व्याप्त है। 
मैरिज हाल में थर्मल स्क्रीनिंग के लिए धूप में लगी लाइन।
बताते चलंे कि कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए पूरे देश मंे लाकडाउन लगा दिया गया था। लाकडाउन के बाद से प्रवासी लोगों का अपने घर वापसी का सिलसिला शुरू हो गया था। अपने शहर व गांव वापस आ रहे प्रवासी मजदूरों की थर्मल स्क्रीनिंग का कार्य स्वास्थ्य विभाग द्वारा करवाया जा रहा है। अब तक यह कार्य जिला चिकित्सालय में चल रहा था। लेकिन भीड़ अधिक होने की वजह से थर्मल स्क्रीनिंग का कार्य सदर अस्पताल के सामने स्थित शगुन मैरिज हाल में भी विभाग द्वारा शुरू कराया गया। शुक्रवार को शगुन मैरिज हाल में थर्मल स्क्रीनिंग कराने के लिए प्रवासी लोगों की भारी भीड़ उमड़ी। मैरिज हाल के बाहर व जीटी रोड तक दो-दो लाइनें लगी रहीं। कड़ी धूप के बीच प्रवासी लोग लाइन में अपनी बारी का इंतजार करते रहे। कुछ लोगांे का कहना रहा कि विभाग द्वारा उनके लिए कोई इंतजाम नहीं किया गया। धूप में उन्हें जलना पड़ रहा है। यह भी कहना रहा कि पानी के लिए टैंकर तो खड़ा करा दिया है लेकिन पानी खौल रहा है। इतनी गर्मी के बीच खौलता पानी कैसे पिया जाये। इसके अलावा यहां बैठने तक की व्यवस्था नहीं है। उनके बच्चे व महिलाएं जमीन पर ही बैठने के लिए विवश हैं। सरकार व विभाग द्वारा किये जा रहे कार्य सिर्फ कागजों तक ही सीमित हैं। 

No comments