Latest News

छात्र की पीटकर हत्या, जहरीला पदार्थ भी खिलाया

शव फेंककर भाग निकले हत्यारे 
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में उपचार दौरान मौत 
सूत्रों का दावा: मामला प्रेम-प्रसंग का होने की चर्चा 

बांदा, के0 एस0 दुबे । छतरपुर में एमएससी प्रथम वर्ष के छात्र की संदिग्ध परिस्थितियों में कुछ लोगों ने मारपीट कर हत्या कर दी। आत्महत्या का रूप देने के लिए युवक को जहरीला पदार्थ भी खिला दिया। परिजनों को भनक लगी तो पुलिस को सूचना दी। बुधवार को तड़के पुलिस युवक को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाई, वहां पर उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। सूत्रों का दावा है कि मामला आशनाई से जुड़ा है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा के बाद पोस्टमार्टम कराया है। 
मौके पर मौजूद एएसपी एलबीके पाल
मप्र के पन्ना जिला अंतर्गत धमरपुर थाना क्षेत्र के पयारी गांव निवासी अंकित त्रिवेदी (22) पुत्र संतोष छतरपुर में रहकर एमएसी प्रथम वर्ष की पढ़ाई करता था। लाक डाउन के दौरान शिक्षण संस्थान बंद होने के कारण वह अपने गांव वापस आ गया था। अंकित मंगलवार की शाम को अपने खेतों से घर की तरफ लौट रहा था, तभी यह लापता हो गया। कुछ लोग अगवा कर अंकित को बरियारपुर गांव ले गए और वहां पर उसकी जमकर धुनाई की। मारपीट के दौरान गंभीर चोट आने पर अंकित मरणासन्न हो गया और हमलावरों ने उसे खेतों में फेंक दिया। इस बात की जानकारी अंकित के घरवालों को हुई तो पुलिस को सूचना दी गई। खोजते हुए मौके पर पहुंची पुलिस ने अंकित को
पंचनामा की कार्रवाई पूरी करती पुलिस
मरणासन्न हालत में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नरैनी में भर्ती कराया। वहां पर उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। अंकित की मौत की खबर मिलते ही परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। नरैनी पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पोस्टमार्टम हाउस में मृतक के बाबा मृतक के बाबा शिवकिशोर त्रिवेदी ने बताया कि अंकित का मर्डर क्यों हुआ, इस बारे में वह कुछ नहीं जानते। लेकिन मारपीट कर हत्या करने के बाद आत्महत्या का रूप देने के लिए जहरीला पदार्थ खिला दिया गया है। इस संबंध में कालिंजर थाना प्रभारी राकेश कुमार सरोज का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है।

No comments