Latest News

लॉकडाउन कानपुर:- राशन दुकानों की तरह शराब ठेकों के बाहर लगीं लंबी लाइन पुलिस को कई जगह पटकनी पड़ीं लाठियां

लॉकडाउन के बीच प्रशासन की मंशा के अनुरूप सोमवार को शहर में देसी और अंग्रेजी शराब ठेके खुले, जिनके बाहर लगी खरीदारों की भीड़ देखते ही बनी। राशन की दुकानों की तरह लोग ठेकों के बाहर खड़े रहे। खरीदारों की भीड़ नियंत्रित करने के लिए पुलिस को कई जगह लाठियां पटकनी पड़ीं।
आमजा भारत कार्यालय संवाददाता:- रविवार देर शाम प्रशासन ने एकल व्यवस्था के तहत शहर में देसी, अंग्रेजी शराब ठेके और बीयर शॉप खोले जाने के लिए सुबह 10 से पांच बजे तक के आदेश दिए। इससे सोमवार सुबह आठ बजे से ही खरीदारों की भीड़ ठेकों के बाहर लगनी शुरू हो गई। ठेके खुलने से पहले तक लोग नगर निगम के सोशल डिस्टेंसिंग के लिए बनाए गोलों में खड़े रहे। ठेकों के खुलते ही भीड़ बढ़ने के साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग भूल गए। कई ठेकों के बाहर धक्का-मुक्की और मुंहाचाही भी हुई। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को लाठी तक पटकनी पड़ी।

आदेश वापस होने के डर से खरीदी पेटियां
शराब ठेकों पर कई ऐसे खरीदार भी दिखे, जो पूरी की पूरी पेटी खरीदकर ले जाते नजर आए। एक पेटी खरीदार नाम न छापने की शर्त पर बोला कि आज के हालत देखकर नहीं लगता कल ठेके खुलेंगे। पछताना न पड़े, इसलिए कुछ दिन का कोटा ले लिया है।

हॉटस्पॉट एरिया के नहीं खुले 64 ठेके
जिला आबकारी अधिकारी अरविंद मौर्य ने बताया कि शहर में शराब के 812 ठेके हैं। इसमें हाटॅस्पॉट दायरे में आनेवाले 64 ठेके नहीं खुले। सभी ठेकेदारों को पहले ही इसके दिशा-निर्देश दे दिए गए थे।

No comments