Latest News

बीमार वृद्धा ने बैंक की चौखट पर तोड़ा दम

भुगतान के लिए आई थी बैंक, 
चार घंटे बाद भी नहीं हो सका था भुगतान  

हमीरपुर, महेश अवस्थी  । ग्राम बन्ड़ा की 80 वर्षीय वृद्धा अपने पुत्रों के साथ इंडियन बैंक की शाखा इगोहटा से पैसा निकाल कर जिला अस्पताल हमीरपुर में इलाज कराने के इरादे से बैंक आई थी, मगर चार घंटे के इंतजार के बाद भी उसका भुगतान नहीं हुआ ,तो बैक के बाहर उसने दम तोड़ दिया '¦वही शाखा प्रबंधक का कहना है कि सर्वर न आने से भुगतान संभव नहीं हो सका ¦
ग्राम बन्ड़ा निवासी. सत्तीदीन साहू की पत्नी प्यारी 80 "वर्ष का खाता इंडियन बैक की शाखा इगोहटा में खुला है ।उसके खाते में 55 हजार रुपये  हैं ।उसका स्वास्थ्य अचानक खराब हुआ ,तो उसके पुत्र स्वामीदीन व फूलचंद्र उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल हमीरपुर लिए जा रहे थे । ¦पुत्र स्वामीदींन ने बताया कि पैसा न होने पर सोंचा था कि पहले बैंक से पैसा निकाल लेंगे
,इसके बाद हमीरपुर जाकर इलाज कराएंगे ¦ वह अपनी माँ को लेकर प्रातः 9 "बजे बैक आ गया, किन्तु दोपहर एक बजे तक पैसा नहीं निकल पाया और तब तक माँ की हालत इतनी बिगड़ गई कि उसने दम तोड़ दिया । ¦उसका कहना था कि यदि पेमेंट हो जाता तो वे लोग अस्पताल पहुंच जाते, उनकी मां की जान बच सकती थी ¦वही बैक के शाखा प्रबंधक हर्षमणि त्रिपाठी का कहना है कि वृद्धा प्यारी देवी का बेड्राल फ़ॉर्म 9 बजे ही जमा करा लिया गया था ,किन्तु सर्वर न आने के कारण भुगतान संभव नहीं हो सका ¦वही इस बैक मे भुगतान न हो पाने से कई गांवों से आए उपभोक्ता भूखे प्यासे सुबह से शाम तक बैठे रहे । खाता धारकों ने यह भी बताया कि पहले इलाहाबाद बैंक के नाम से संचालित इस बैक का विलय इंडियन बैंक मे हो गया है, तो बैक के 80 प्रतिशत खाते बंद हो गए हैं, जिससे खाताधारकों को बहुत बड़ी समस्या से जूझना पड़ रहा है ¦वही मैनेजर का कहना था केवाईसी फ़ॉर्म भरकर खाते सही किए जा रहे हैं।बुढ़िया की मौत से बैक में अफरा तफरी का माहौल बना रहा बैककर्मी ग्राहकों की नाराजगी भी झेलते रहे ।

No comments