Latest News

कोरोना पर नियंत्रण के लिए प्राइवेट अस्पतालों को भी किया जा रहा तैयार

प्राइवेट अस्पताल व नर्सिंग होम के स्वास्थ्यकर्मियों को संक्रमण नियंत्रण पर दिया प्रशिक्षण 
  
बांदा, के0 एस0 दुबे । जिले में कोरोना संक्रमण के नियंत्रण के लिए प्राइवेट अस्पताल व नर्सिंग होम को भी तैयार किया जा रहा है। जरूरत पड़ी तो संभावित मरीजों की स्क्रीनिंग में इनका सहयोग भी लिया जाएगा। इसके लिए जनपद के 10 प्राइवेट अस्पतालों को चिन्हित कर स्वास्थ्य विभाग द्वारा उन्हें संक्रमण रोकथाम एवं नियंत्रण पर प्रशिक्षण दिया गया है जिससे मेडिकल स्टाफ स्वयं सुरक्षित रहते हुए संक्रमण नियंत्रण में मदद कर सके। 
बैठक में मौजूद प्राइवेट अस्पताल व नर्सिंग होम के स्वास्थ्य कर्मी
सीएमओ डा. संतोष कुमार ने बताया कि सरकार की अनुमति पर जनपद में कुछ प्राइवेट अस्पतालों और नर्सिंग होम में आपातकालीन सेवाएं दी जा रही हैं। आपातकालीन सेवाओं के साथ ये अस्पताल कोरोना के संभावित मरीजों की स्क्रीनिंग भी कर सकें, इसके लिए विशेष सावधानियां बरतने की जरूरत है। इसे देखते हुये कोविड-19 प्रबंधन के लिए इन अस्पतालों के चिकित्सक, स्टाफ नर्स, पैरामेडिकल कर्मियों, गैर चिकित्सकीय कर्मियों एवं अन्य सेवा प्रदाता को जल्द से जल्द प्रशिक्षित किया जाना है। इसी क्रम में बुधवार को मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय के 10 प्राइवेट अस्पतालों और नर्सिंग होम के नोडल को कोरोना संक्रमण और उससे बचाव के उपायों के बारे में जानकारी दी गई। प्रशिक्षण प्राप्त कर चुके डॉक्टर अब अपने-अपने अस्पतालों अन्य स्वास्थ्यकर्मियों को भी इसका प्रशिक्षण देंगे। प्रशिक्षण के दौरान विश्व स्वास्थ्य संगठन के सर्विलांस मेडिकल आफिसर डा. संतोष गुप्ता व जिला सलाहकार क्वालिटी एशुरेंस डा. सतेन्द्र शुक्ल द्वारा उपस्थित प्रतिभागियों को इन्फेक्शन कण्ट्रोल के विभिन्न पहलुओं की जानकारी दी गई। साथ ही उन्हें निर्देश दिए गए कि वह सामाजिक दूरी का पालन करते हुए संभावित मरीजों की स्क्रीनिंग करें। स्क्रीनिंग का समय एन-95 और पीपीई किट का आवश्यक रूप से उपयोग करें व बुखार की जांच के लिए इन्फ्रारेड थर्मामीटर का इस्तेमाल करें। प्रशिक्षण में प्राइवेट अस्पतालों के नोडल अधिकारी व ब्लाक चिकित्सा अधिकारी मौजूद रहे।

No comments