Latest News

प्रवासी मजदूरों को भोजन करवाकर पेश की समाजसेवा की नजीर

कालपी (जालौन), अजय मिश्रा । कोरोना वायरस को मद्देनजर रखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा ऐतिहातन देश मे सम्पूर्ण लॉकडाउन का ऐलान कर दिया था, वर्तमान में लॉकडाउन का तीसरा चरण चल रहा है, ऐसे में अन्य प्रदेशों में फसे प्रवासी मजदूरों को भारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। सरकार द्वारा प्रवासी कामगारों को अपने अपने घरों में पहुंचने की छूट दिए जाने के बाद कालपी नगर से रोजाना हजारों की तादाद में प्रवासी मजदूरों की आवाजाही रहती है। भूखे प्यासे मजदूरों के सहारे नगर के कुछ लोग स्वयं की प्रसिद्धि या राजनैतिक लाभ के लिए मदद के नाम पर महज मोबाइल से तस्वीरों मात्र के लिए मजदूरों के हितैषी बनते हुए नजर आते हैं तो कुछ वास्तव में तन मन धन से सेवा करने में लगे हुए हैं। ऐसे ही कुछ समाजसेवियों ने समाजसेवा की असली नजीर पेश करते हुए डेढ़
प्रवासी कामगारों को भोजन पैकेट बांटते समाजसेवी।
हजार से अधिक प्रवासी मजदूरों को भरपेट भोजन करवाकर जनप्रतिनिधियों व नगर के राजनेताओं की आंखें खोल कर रख दी है।
शुक्रवार को चिलचिलाती धूप में कालपी गल्ला मंडी के पास समाजवादी पार्टी से ताल्लुक रखने वाले युवा समाजसेवी इंजी. पुष्पेंद्र सिंह सेंगर के साथ समाजसेवी रामप्रताप सेंगर, शोभित गौर, समाजसेवी महर्षि सैनी, जयपाल, अजय, सुधीर महाराज आदि ने डेढ़ हजार से अधिक भूखे प्यासे प्रवासी मजदूरों को भोजन कराने की समुचित व्यवस्था की उन्हें पूड़ी सब्जी से भरे लंच पैकेट देकर विदा किया तथा हजारों ठंडे पानी के पाउच पिलाकर राहत प्रदान की। युवा समाजसेवियों के इस सराहनीय कार्य की नगरवासियों ने भरपूर सराहना की।

No comments