Latest News

विद्यालय में नहीं, घर में ही करें क्वारंटीन: डीएम

चोरीछिपे गांवों में घुसन न पाए बाहरी व्यक्ति, निगरानी समिति को करें सक्रिय
डीेएम ने बिन्दुवार समीक्षा कर दिए निर्देश

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में कोरोना वायरस के बचाव से संबंधित बैठक संपन्न हुई।
जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारियों से कहा कि जिन लोगों को होम क्वॉरेंटाइन कराया जाए उन्हें खाद्यान्न की किट भी दें जो प्रवासी रात में गांव पर आते हैं उन पर गांव की निगरानी समिति को सक्रिय कर फीडबैक ले। कोई भी व्यक्ति अगर चोरीछिपे आ रहे हैं उन्हें कतई गांव में घुसने न दें। अगर किसी गांव में ढिलाई बरती गई तो संबंधित गांव की निगरानी समिति पर कार्यवाही की जाएगी। प्रवासियों को विद्यालयों पर न रख कर घरों पर 21 दिन के लिए होम क्वॉरेंटाइन कराया जाए। अपर जिलाधिकारी से कहा कि जो प्रतिदिन शासनादेश शासन से प्राप्त हो रहे
हैं उनको प्रति बैठक में भी रखें। प्रभारी अधिकारी कंट्रोल रूम से कहा कि जो प्रवासी गांव में 21 दिन के लिए होम क्वॉरेंटाइन किए गए हैं उनसे फोन पर कुछ व्यक्तियों से बात कर फीडबैक अवश्य लें। मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कहा कि जो समस्याएं उनके पास आती हैं उन पर क्या कार्यवाही हुई उसकी सूचना अवश्य उपलब्ध कराएं। पीपीई किट सभी जो लगे अधिकारी कर्मचारी हैं उन्हें उपलब्ध कराएं। रेंडम सैंपल की जांच अवश्य भेजें। मुख्य चिकित्सा अधीक्षक से कहा कि जिला अस्पताल को लगातार सैनिटाइज कराएं तथा सफाई व्यवस्था दुरुस्त रखें। दवाओं आदि की उपलब्धता बनी रहे। पीपीई किट जो विभाग मांग करे तो तत्काल व्यवस्था कराएं। अगर कम है तो और व्यवस्था कराएं। जिला पूर्ति अधिकारी से कहा कि जो 15 मई से निशुल्क खाद्यान्न का वितरण किया जाना है उसका शत प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित करा ले। सभी नोडल अधिकारी गांव में जाकर निशुल्क खाद्यान्न का वितरण कराएं। उन्होंने यह भी कहा कि जो नोडल अधिकारी गांव में लगाए गए हैं वह अपनी उपस्थिति में 14 मई को ग्रामों में खुली बैठक का आयोजन कराए। जिसमें निगरानी समिति की बैठक कर जो प्रवासी बाहर से गांव में आ रहे हैं उनकी सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराने की कार्यवाही करें। संबंधित प्रपत्र पर सूचना भी दी जाए। संबंधित विभागीय अधिकारी यह देखें कि निगरानी समिति के कर्मचारी बैठक में उपस्थित रहे। उप जिलाधिकारी तथा खंड विकास अधिकारी कुछ गांव का भ्रमण कर अपने समक्ष बैठक कराएं। 21 दिन का होम क्वॉरेंटाइन का घरों पर चस्पा अवश्य करा दे। शासन से भी समीक्षा की जा रही है। बैठक की फोटो भी ग्रुप में डाला जाए। उन्होंने डिप्टी आरएमओ से कहा कि गेहूं क्रय केंद्रों पर समस्या नहीं होना चाहिए। किसानों का समय से भुगतान कराएं तथा उचित दर विक्रेताओं से बोरों की व्यवस्था सुनिश्चित करा ले। उन्होंने जिला पंचायत राज अधिकारी तथा अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद कर्व को निर्देश दिए कि प्रॉपर तरीके से हॉट स्पाट के गांव तथा नगर व अन्य गांव पर लगातार सैनेटाइज व दवाओं का छिड़काव जारी रहे। पशु चिकित्सा अधिकारी से कहा कि गौशालाओं पर प्रतिदिन परीक्षण गोवंशो का कराएं। पशुओं के टीके लगने हैं उनकी भी व्यवस्था सुनिश्चित करा ले और गौशालाओं पर भूसा दान अधिक से अधिक कराया जाए। उप निदेशक कृषि से कहा कि जो किसान प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि मैं छूट गए हैं उन्हें लाभ दिलाया जाए तथा मिसमैच का डाटा में सुधार कराया जाए। आबकारी अधिकारी को निर्देश दिए कि अधिक से अधिक अवैध शराब पर छापामारी की कार्यवाही की जाए तथा ओवर रेट पर कहीं पर शराब नहीं बिकनी चाहिए। खंड विकास अधिकारियों से कहा कि मनरेगा में कोई गलत रिपोर्ट नहीं होनी चाहिए सभी ब्लॉक नोडल अधिकारी भ्रमण कर मनरेगा के कार्यों का निरीक्षण अवश्य करें। उन्होंने कहा कि कहीं से अगर शिकायत प्राप्त हुई तो सख्त कार्यवाही होगी। डीसी मनरेगा से कहा कि निरीक्षण की प्रतिदिन की रिपोर्ट दें। सभी इच्छुक मजदूरों के अभियान चलाकर जॉब कार्ड बनाएं और मास्टर रोल समय से निकाल व्यवस्था सुनिश्चित कराएं। उन्होंने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि विद्युत व्यवस्था निरंतर जारी रहे कहीं पर कोई समस्या न हो। ताकि पेयजल की कोई असुविधा न हो। उन्होंने पेयजल से संबंधित अधिकारियों से कहा कि सभी पेयजल परियोजनाएं संचालित रहे। कहीं पर कोई समस्या हो तो तत्काल उसका निस्तारण करें। खंड विकास अधिकारियों से कहा कि हैंडपंपों का शत-प्रतिशत मरम्मत तथा रिबोर करा ले ताकि पेयजल की कोई समस्या ना हो। अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद कर्वी से कहा कि हॉट स्पॉट के क्षेत्र में होम डिलीवरी के माध्यम से सभी आवश्यक वस्तुओं का संचालन निरंतर जारी रहे। इसी प्रकार गांव में भी जिला पंचायत राज अधिकारी सुनिश्चित करा लें ताकि लोगों को कोई समस्या ना हो। जिलाधिकारी आरोग्य सेतु एप डाउनलोड पर कहा कि अधिक से अधिक आम जनमानस में डाउनलोड कराएं। जिन विभागों को जो लक्ष्य दिया गया है वह तत्काल पूर्ण कराये। उन्होंने टेलीमेडिसिन, पंचायतीराज, बैंक, पोस्ट ऑफिस, मंडी आदि व्यवस्थाओं की समीक्षा की। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डॉ महेंद्र कुमार, अपर जिलाधिकारी जीपी सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक बलवंत चैधरी समस्त उप जिलाधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

No comments