Latest News

दुकानें खुलने की उम्मीद में लॉकडाउन के दौरान सड़कों पर निकली भीड़

भ्रम की स्थिति में दुकानदारों ने उठाये शटर, पुलिस के समझाने पर हुए वापस

फतेहपुर, शमशाद खान । द्वितीय चरण के लॉकडाउन की समाप्त होने के बाद सोमवार से शुरू हो रहे लॉकडाउन 3.0 में देश के जनपदों को तीन जोनों में बंाटने के बाद हर जिलों के लिये अलग अलग जारी हुई गाइडलाइन के कारण जनपद के व्यापारियों में जमकर भ्रम की स्थिति बन गयी। जिले का नाम ग्रीन जोन में शामिल होने के कारण लोग लॉकडाउन के तृतीय चरण में मिलने छूट को लेकर उत्साहित नजर आ रहे थे हालांकि जिलाधिकरी द्वारा देर शाम तक जनपद में लॉकडाउन पूर्व में जारी रहने का आदेश सोशल मीडिया में आ गया था लेकिन टेलीवीजन पर चलने वाले समाचारों में लगातार दिखाए जा रहे अलग अलग जोनों के लिये मिलने वाली छूट को लेकर लोगों में जमकर भ्रम की स्थित रही। शहर के अलावा बिंदकी व खागा तहसील क्षेत्रों के कस्बों में व्यपारी छूट की सूची में शामिल अपनी-अपनी दुकानें खोलने पहुंच गये। जहाँ तैनात पुलिस कर्मियों द्वारा समझाने बुझाने के बाद लॉकडाउन पूर्वत जारी रहने
जीटी रोड पर वाहन व निकलते लोग।
की बात कहकर दुकांनदरों को किसी तरह वापस किया गया। वहीं दुकाने खुलने की सूचना पर जरूरतमंद भी सड़कों पर निकल पड़े। जिससे सड़कों पर बड़ी संख्या में भीड़ उमड़ आयी। लॉकडाउन के दौरान लोगो को देखकर पुलिस कर्मियों के हाथ पैर फूल गये। बैरियरों पर सख्ती बरतकर लोगों को वापस किया गया। भ्रम के कारण काफी दिनों से लॉकडाउन में जरूरी चीजों की कमी से जूझ रहे लोगो को खरीदारदारी करने को सड़कों पर आ जाने से अफरा-तफरी का माहौल बना रहा। दोपहर बाद आबकारी विभाग द्वारा शराब की बिक्री के लिये दुकानों को खोल दिया गया। जिसके कारण शराब के शौकीन पियक्कड़ों का दुकानों पर आना जाना जारी रहा। वही ग्रीन जोन में शामिल जिले में किसी तरह की छूट न दिए जाने को लेकर लोगो में मिली जुली राय बनी रही। कुछ लोग इसे कोरोना संक्रमण से लोगो को बचाने के लिये प्रशासन द्वारा किसी तरह की छूट न दिए जाने को सही बता रहे है जबकि काफी दिनों से लॉकडाउन के दौरान कामधंधा बन्द होने से परेशान लोग थोड़ी बहुत ढील दिए जाने की मांग करते हुए दिखाई दिए।

No comments