Latest News

लॉकडाउन में अनुमति मिलते ही बाजारों में आने लगी रौनक

रोजमर्रा की चीजों की साथ लोगों ने शुरू की ईद की खरीदारी
   
फतेहपुर, शमशाद खान । लॉकडाउन 4.0 में दुकानों व प्रतिष्ठानों को खुलने की अनुमति मिलने के बाद शुक्रवार को ज्वेलर्स, गारमेंट्स टेलरिंग, पर्दे, वस्त्रालय, जूता, चप्पल समेत अन्य जरूरतों की दुकानों के खुलते ही लोग अपनी-अपनी जरूरत की चीजें खरीदने के लिये निकले। कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए दो माह से चल रहे लॉकडाउन में केवल रोजमर्रा के खाने पीने की दुकानों को छोड़कर अन्य सभी तरह की दुकानों बन्द करा दी गयी थी।  जिससे लोगो को जरूरत की वस्तुएं मिलनी बन्द हो गयी थीं। जबकि प्रशासन द्वारा दूध, फलों, सब्जियों आदि की होम डिलेवरी की व्यवस्था की थी। वहीं दवाइयां, किराने समेत अन्य रोजमर्रा के उपयोग में आने वाली दुकानों को सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करने समेत अन्य आवश्यक निर्देशो का पालन करते हुए खोलने की सशर्त अनुमति दी गई
चौक बाजार में खरीददारी करते लोग।
थी। लॉकडाउन के कारण व्यापारियों एवं रोज के काम धंधा से जीवन गुजर बसर करने वालो की समस्या देखते हुए एवं निकट आ रहे ईद का पर्व के कारण दुकानों को सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक खोलने की अनुमति मिलने के बाद शुक्रवार को पहले दिन बाजार में रौनक दिखाई दी। जरूरत की वस्तुओ की खरीददारी के साथ लोग ईद की तैयारी करते हुए भी दिखाई दिये। जिला प्रशासन द्वारा दुकानदारों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने भीड़-भाड़ न लगाने के निर्देश दिए गये है। कोरोना वायरस के संक्रमण के असर को देखते हुए लोग भी बेहद सजगता बरत रहे है। मास्क सेनेटाइजर का प्रयोग कर बाजारो में जरूरत की चीजों की खरीदारी की जा रही है। ईद की निकटता होने के कारण मुस्लिम वर्ग की महिलाओं द्वारा कपड़ों, चूड़ी समेत बच्चों के लिय जरुरत की चीजों की खरीददारी की जा रही है। हालांकि बाजार में लॉकडाउन का साफ असर दिखा। अन्य वर्षों की तुलना में खरीदारी मात्र बीस प्रतिशत के आस पास ही दिखाई दे रही है।

1 comment: