Latest News

कानपुर:- इन शर्तों के साथ खुलेगी कानपुर कचहरी

लायर्स और बार असोसिएशन के पदाधिकारियों ने सशर्त कोर्ट खोलने के लिए कोर्ट परिषर में बैठक की

कानपुर कोर्ट (Kanpur Court) के सेशन हाउस में बार एसोसिएशन कानपुर नगर लायर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष व मंत्री गण के साथ बैठक आयोजित की गई। बार एसोसिएशन के अध्यक्ष श्याम जी श्रीवास्तव, महामंत्री कपिलदीप सचान, लायर्स के अध्यक्ष दिनेश सचान, दिनेश कुमार शुक्ला व महामंत्री वीर बहादुर सिंह शामिल हुए। बैठक के समय न्यायिक अधिकारियों में बी के सिंह, अपर जिला जज कोर्ट प्रभारी अधिकारी बाल कृष्ण ,अपर जिला जज अधिकारी अहमद, अपर जिला जज अधिकारी कोर्ट संख्या 17 आशीष कंबोज आदि जज बैठक में में शामिल हुए। पदाधिकारी अधिकारी ने मास्क लगाकर सोशल डिस्टेंसिंग के साथ बैठक में सामिल हुए।

25 मई को खुल सकती है कानपुर कचहरी
कानपुर सवांददाता गौरव शुक्ला:- बार के अध्यक्ष श्याम जी ने बताया कि माननीय उच्च न्यायालय ने दिनांक 25 मई 2020 से प्रत्येक जोन के सिविल कोर्ट को खोलने का आदेश दिया। वह कंटोनमेंट जोन में नहीं लेकिन सिविल कोर्ट कानपुर नगर दिनांक 22 मई 2020 को स्थानीय अवकाश होने के कारण नहीं खोला जा सका। इसी कारण दिनांक 23 मई 2020 को माह का चतुर्थ शनिवार होने के कारण सिविल कोर्ट नहीं खोला जा सका। दिनांक 24 मई 2020 को रविवार तथा 25 मई 2020 को माननीय उच्च न्यायालय के कैलेंडर के अनुसार ईद का अवकाश है यदि ईद का त्यौहार रविवार दिनांक 24 मई 2020 को मनाया जाता है तो उस दशा में कचहरी कापू को पूरा सैनिटाइजर व सफाई कराने के पश्चात इसे सीमित उद्देश्य के लिए सीमित न्यायिक अधिकारियों के साथ दिनांक 25 मई 2020 से अथवा 26 मई को खोला जा सकता है।
आवश्यक कार्यो के लिए ही खुलेगी कचहरी
कचहरी के खुलने की दशा में जब तक कानपुर जिला रेड जोन में है केवल निम्नलिखित न्यायिक अधिकारी प्रत्येक कार्य दिवस में मेरे द्वारा निर्धारित टाइम स्लॉट में बैठे व केवल कुछ आवश्यक कार्य करेंगे जिनका विवरण माननीय उच्च न्यायालय के पत्र में लिखा है ।

सिर्फ इन्हें होगी इजाज़त

सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि सिविल कोर्ट कैंपस में केवल वही अधिवक्ता प्रवेश करेंगे जिनका आवश्यक मामला उस दिन की सूची में सूचीबद्ध है। अन्य कोई अधिवक्ता व अधिकारी या पैरों का सिविल कोर्ट में नहीं आएगा जो अधिवक्ता गण परिसर में आएगा उन्हें कोर्ट गाऊँन न पहनने की छूट होगी वह हल्के रंग की पैंट व सफेद शर्ट में आएंगे वह बैंड पहनेंगे इसी प्रकार महिला अधिवक्ता सलवार सूट अथवा साड़ी में आएंगी वह बैंड पहनेंगी अधिवक्ता गण बार काउंसिल ऑफ उत्तर प्रदेश द्वारा निर्धारित सी ओ पी कार्ड के साथ आएंगे।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होगी सुनवाई
इसके साथ ही अधिवक्तागण वर्चुअल कोर्ट रूम नंबर 29 जोकि दूसरे तल पर कमरा नंबर 29 में बनाई गई है। एक-एक करके अपने मामले में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बहस करेंगे। वर्चुअल कोर्ट रूम के लोक अभियोजक भी होंगे अपने मामले की बहस करने के पश्चात अधिवक्तागण तुरंत कचहरी परिसर से बाहर चले जाएंगे। अधिवक्तागण मास्क लगा कर स्वयं के सैनिटाइज़र के साथ आएंगे व् सोशल डिस्टेंसिंग का भी ख्याल रखेंगे।

2 comments: