Latest News

लाकडाउन में खूनी संघर्ष: अधेड़ की पीट-पीटकर हत्या

बबूल का पेड़ काटने को लेकर हुआ था मामूली विवाद
  
फतेहपुर, शमशाद खान । जनपद में  लाकडाउन के बाद भी अपराध रूकने का नाम नहीं ले रहे हैं। आये दिन कहीं न कहीं आपराधिक घटनाएं हो रही हैं। वहीं प्रशासन के लाख प्रयासों के बाद भी अपराध में अंकुश लगाने में पूरी तरह से नाकाम हो रहे हैं। ऐसा ही मामला खागा कोतवाली क्षेत्र के ग्राम सरसई बुजुर्ग में  बबूल का पेड़ काटने को लेकर मामूली विवाद खूनी संघर्ष में बदल गया। जिसमंे एक अधेड़ की लाठी-डण्डों से पीट-पीटकर हत्या कर दी गयी। घटना की सूचना पाकर अपर पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंच घटनास्थल का बारीकी से निरीक्षण करने के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी के कड़े निर्देश दिये। वहीं पुलिस ने मृतक के परिजनों की ओर से दो नामजद व तीन अज्ञात के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर लिया है। 
पोस्टमार्टम हाउस में खड़े मृतक के परिजन।
जानकारी के अनुसार सरसई बुजुर्ग गांव निवासी गोली मौर्या का पुत्र राम केदार मौर्या व गांव के ही गोलू मौर्या के बीच आज सुबह बबूल का पेड़ काटने को लेकर विवाद हो गया। देखते ही देखते बात इतनी बढ़ गयी कि विवाद खूनी संघर्ष में बदल गया। इसी बीच गोलू मौर्या, रमेश मौर्या व अन्य तीन लोगों ने रामकेदार की खेत मंे ही लाठी-डण्डों से पीट-पीटकर मरणासन्न स्थिति में कर दिया और मौके से फरार हो गये। वही घायल को आनन-फानन उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र हरदों ले जाया गया जहां चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं घटना की सूचना पाते ही अपर पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार दलबदल के साथ घटनास्थल का निरीक्षण करने के बाद कोतवाली प्रभारी को जल्द से जल्द आरोपियों को गिरफ्तार करने के निर्देश दिये। वहीं पुलिस ने दो नामजद व तीन अज्ञात के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत करते हुए अपनी तहकीकात शुरू कर दी है। पुलिस ने शव को कब्जे मंे लेकर विच्छेदन गृह भेज दिया। 

No comments