Latest News

पत्रकार ने गांव के बाहर बाग में स्वयं को किया क्वारंटीन

जद्दोजहद कर भोपाल से गृह जनपद आये थे आलम
   
फतेहपुर, शमशाद खान । समाज को सच का आईना दिखाने वाले व देश का चौथा स्तम्भ कहे जाने वाले पत्रकार ने बीते एक सप्ताह से लाकडाउन के नियमों का पालन करते हुए होम क्वारंटीन न करके गांव के बाहर एक बाग में खुद को क्वारंटीन किये हुए हैं।
बाग में क्वारंटीन किये पत्रकार सरवरे आलम।
बताते चले कि सुल्तानपुर घोष थाना क्षेत्र के अन्तर्गत रहने वाले पत्रकार सरवरे आलम बीते 19 मार्च को अपने मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में एक न्यूज चैनल में इंटरव्यू देने के लिए गये थे। देश में बढ़ रहे कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 22 मार्च को जनता कफ्र्यू व 24 मार्च के बाद से देश में 21 दिनों के लिए सम्पूर्ण भारत में लाकडाउन लगाये जाने के बाद वहीं फस गये थे। जिसकी वजह से उन्हें भोपाल से निकलना बड़ा मुश्किल हो गया था और उन्हें काफी दिक्कतों का सामना भी करना पड़ा। हालांकि कि भोपाल से किसी भी तरह 15 मई को अपने गृह जनपद पहुँच गये। उसके बाद सीधे घर न जाकर सबसे पहले हथगांव ब्लॉक के सीएचसी अस्पताल पहुँचकर कोरोना वायरस के लक्षणों की जांच करवाने के बाद एक जिम्मेदार पत्रकार होने के नाते सुल्तानपुर घोष थाने पहुँचकर भोपाल से आने की सूचना दी। उसके बाद सीधे घर न जाकर गांव के बाहर एक बाग में खुद को क्वारंटीन कर लिया। हालांकि उन्होंने बताया कि गांव के बाहर क्वारंटीन करने का सिर्फ एक ही मकसद है कि उनकी वजह से परिवार व गांव के लोग इस कोरोना वायरस जैसी भयंकर महामारी की चपेट में न आ सके।

1 comment: